अनोखा बुटीक: यहां दुल्हन की तरह सजाएं जाते है लड्डू गोपाल, जानें- सबसे खास बात

Krishna Janmashtami 2021: देशभर में आज जन्माष्टमी (Janmashtami) की धूम है. मुरली मनोहर के भक्त भगवान श्री कृष्ण ((Lord Krishna)) की मस्ती में डूबे हुए हैं. लड्डू गोपाल (Laddu Gopal) को लोग अपने घरों में अपनी-अपनी तरह से सजाने में जुटे हुए हैं. ऐसे में कानपुर (Kanpur) में कान्हा का बुटीक (Boutique) कम ब्यूटी पार्लर बाल गोपाल को किसी महिला की तरह सजाने में जुटा हुआ है. यहां जैसे एक दुल्हन का ब्यूटी पार्लर (Beauty Parlour) में मेकओवर किया जाता है कुछ वैसा ही स्वरूप कान्हा को दिया जा रहा है.  

अनोखा है ब्यूटी पार्लर
त्वचा की रंगत से मैच करता फाउंडेशन, पोशाक के कंट्रास्ट का आईशैडो और गालों को उभारते हुए ब्लशर के स्ट्रोक. ये मेकअप शहर की किसी महिला का नहीं बल्कि राधा रानी के साथ विराजने वाले भगवान श्री कृष्ण का है. कानपुर महानगर के गीता नगर स्थित एक अनोखे ब्यूटी पार्लर में कान्हा को कुछ इसी तरह से संवारा जाता है. इस अनोखे पार्लर की संचालिका अंजली खंडेलवाल हैं जो देव बुटीक के नाम से भगवान को सजाने की सभी सामग्री रखती हैं.  

खास फेस पैक का होता है इस्तेमाल 
देव बुटीक की संचालिका अंजलि खंडेलवाल का कहना है कि लोग दूर-दूर से अपने लड्डू गोपाल को सजाने और सवारने पहुंचते हैं. यहां आने वाले भक्त संचालिका से बाल गोपाल को परिवार के सदस्यों की तरह सजाते सवारते हैं. भक्तों की मांग पर भगवान श्री कृष्ण को जन्माष्टमी पर विशेष मेकअप का पैकेज भी दिया जाता है. इसमें अष्टधातु की मूर्ति पर विशेष रूप से तैयार चंदन और केसर का फेस पैक इस्तेमाल किया जाता है.  

जानें सबसे खास बात  
यही नहीं, भक्तों की फरमाइश पर बाल गोपाल को संवारने के लिए लिपस्टिक, काजल, आई लाइनर तक का इस्तेमाल किया जाता है. अपनी तरह के इस अनोखे ब्यूटी पार्लर के कदरदान विदेशों में भी हैं. पूरे देश में देव बुटीक से भगवान के आकर्षक वस्त्रों को लोग मंगवाते हैं और अपने लड्डू गोपाल को इन वस्तुओं से सजाते हैं. देशभर में उनके मेकअप और ड्रेस से मथुरा, वृंदावन, प्रयागराज, बरेली, दिल्ली, लखनऊ तक के मंदिरों में भगवान शोभायमान होते हैं. दरअसल, बाजार में मिलने वाले भगवान के वस्त्र को फिट करना पड़ता है लेकिन यहां बुटीक में भगवान की नाप लेकर उनके खास कपड़े भी तैयार किए जाते हैं, जो यहां की सबसे बड़ी खासियत है. शायद इसीलिए यहां महिलाएं स्वयं लड्डू गोपाल को लेकर उन्हें तैयार करवाने आती हैं.  

कनपुरिया लुक का रखा जाता है खास ध्यान
कुल मिलाकर रंग बिरंगे वस्त्र, मोरपंख, मुकुट, अंगूठी, कमर करधनी, पायल, बाजू बन्द, मोती की माला, कंगन, गोटा से सजे वस्त्र, फेस पैक, मसखरा, आई शैडो, आई लाइनर के जरिए मुरली मनोहर को नया उजला स्वरूप दिया जाता है. भगवान कृष्ण से जुड़ी सभी सामग्री यहां तैयार की जाती है. इनमें लड्डू गोपाल का झूला और ड्रेस की खासियत उसका कनपुरिया लुक होता है. डिजाइनर भगवान के कपड़ों में कानपुर के कंट्रास्ट कल्चर का खास ख्याल रखते हैं.

ये भी पढ़ें: 

Janmashtami 2021: 56 भोग त्याग कर श्री कृष्ण ने यहां खाया था साग, जन्माष्टमी में देश के कोने-कोने से आते हैं लोग

Kisan Panchayat: बीजेपी विधायकों के विरोध में नरेश टिकैत बोले- बना सकते हैं तो गिरा भी सकते हैं सरकार

Source link ABP Hindi