अफगानिस्तान को अराजक हाल में छोड़कर जानें पर पुतिन ने की अमेरिकी की आलोचना, जताई ये आशंका

Russia On Afghanistan Crisis: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अफगानिस्तान को अराजकता वाले हाल में छोड़ने के लिए अमेरिका और उसके सहयोगी देशों की आलोचना की है. क्रेमलिन पार्टी, यूनाइटेड रूस की बैठक को संबोधित करते हुए मंगलवार को पुतिन ने कहा कि आतंकवादी उथल-पुथल हालात का इस्तेमाल अफगानिस्तान की सीमा से लगे पूर्ववर्ती सोवियत संघ के मध्य एशियाई देशों को अस्थिर करने के लिए कर सकते हैं.

पुतिन ने कहा, ‘‘एक खतरा है कि अफगानिस्तान में शरण पाने वाले आतंकवादी और विभिन्न समूह हमारे पश्चिमी सहयोगियों द्वारा पैदा की गयी अराजकता का इस्तेमाल करेंगे और पड़ोसी देशों में विस्तार करने की कोशिश करेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह हमारे देश और उसके सहयोगियों के लिए सीधा खतरा पैदा करेगा.’’

इसके साथ ही, पुतिन ने कहा कि रूस ने अफगानिस्तान में 10 साल के सोवियत युद्ध से सबक सीख लिया है और वह अफगानिस्तान में उथल-पुथल से दूर रहेगा. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा अफगानिस्तान के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने का कोई इरादा नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि मादक पदार्थों की तस्करी में संभावित वृद्धि और विस्थापन की समस्याओं का बढ़ना भी रूस के लिए खतरा पैदा कर सकता है.

ये भी पढ़ें:

Taliban Warns US: तालिबान ने फिर अमेरिका को दी काबुल छोड़ने की चेतावनी, कहा- अफगानी लोगों का रेस्क्यू बंद करो

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान में गहराते संकट के बीच तालिबान ने महिला सरकारी कर्मचारियों से अभी घर पर ही रहने को कहा, जानें वजह

Source link ABP Hindi