अफगानिस्तान से लौटे शुभम ने बयां की तालिबानियों की दहशत, बोले- डराने वाला है मंजर

Afghanistan News: गुरुद्वारे के सेवादार अफगानिस्तान (Afghanistan) से संभल में अपने गांव लौट आए हैं. तालिबानियों (Taliban) की दहशत को याद कर सेवादारों की रूह कांप जाती है. गोलियों की आवाज उनके कानों में अभी तक गूंज रही है. राहत की बात ये है कि सेवादारों की सकुशल वापसी के बाद परिजनों में खुशी का माहौल है. फिलहाल भारत (India) लौटे सेवादार और परिजन गुरुद्वारे के एक और सेवादार ज्ञानी के लौटने की प्रार्थना कर रहे हैं. 

बयां किया दर्द 
अफगानिस्तान से संभल (Sambhal) लौटे गुरुद्वारे के सेवादारों ने दर्द बयां करते हुए बताया कि वहां तालिबानियों की दहशत है. तालिबानी किसी की हत्या नहीं कर रहे लेकिन फायरिंग (Firing) करते रहते हैं. कभी आसमान में फायर करते हैं तो कभी जमीन पर गोलियां बरसाते हैं. ये मंजर जो देखता है वो दहशत में आ जाता है.  

भतीजे और भाई को बुलाया अफगानिस्तान
दरअसल, संभल जिले के गांव भतावली निवासी संतरी सिंह अफगानिस्तान के काबुल से लगे शहर कोटासांगी में बने गुरुद्वारा कार्तेपरवान में ज्ञानी हैं. वो 20 वर्षों से गुरुद्वारे में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं. ज्ञानी तीन वर्ष पहले गांव भी आए थे. उन्होंने अपने भतीजे शुभम सिंह और भाई सतवीर सिंह को बीते 9 अगस्त को गुरुद्वारे में सेवादार के रूप में काम करने के लिए अफगानिस्तान बुलाया था. जब शुभम सिंह और सतवीर सिंह पहुंचे तो तालिबानियों का कब्जा अफगानिस्तान में होना शुरू हो गया था. अब पूरी तरह कब्जा होने के बाद से हालात बेहद खराब हो गए हैं. 

बहुत से भारतीय अफगानिस्तान में फंसे हैं
अफगानिस्तान से लौटे शुभम सिंह ने बताया कि उसके चाचा ज्ञानी संतरी सिंह दूसरे जत्थे से आ रहे हैं. वो पहले  जत्थे के साथ भारत आ गए हैं. शुभम सिंह ने बताया कि वहां तालिबानियों की दहशत है. वो किसी की हत्या नहीं कर रहे लेकिन फायरिंग करते रहते हैं. कभी आसमान में फायर करते हैं तो कभी जमीन पर गोलियां बरसाते हैं. ये मंजर जो देखता है वो दहशत में आ जाता है. इसी दहशत के चलते वो भारत आ गए. उन्हें अमेरिकन आर्मी ने भेजा है. शुभम सिंह ने बताया कि उनके चाचा ज्ञानी संतरी सिंह गुरुद्वारा से निकल गए हैं और एयरपोर्ट पर हैं. उनके मंगलवार तक भारत आने की उम्मीद है. अफगानिस्तान से लौटे शुभम सिंह ने बताया अभी भारत के बहुत लोग अफगानिस्तान में फंसे हैं 

ये भी पढ़ें:

Afghanistan Crisis: सपा सांसद बोले- अफगानिस्तान मामले में Confuse है सरकार, जारी करे बयान 

Online FIR: पीड़ितों को अब थाने के चक्कर काटने से मिलेगी मुक्ति, घर बैठे ऐसे दर्ज करें FIR

 

Source link ABP Hindi