अयोध्या पहुंचे मनोज तिवारी ने ‘अंगद’ बनकर बोला केजरीवाल पर हमला

अयोध्या की रामलीला में अंगद का किरदार निभाने आये मनोज तिवारी ने छठ पूजा को लेकर दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जमकर निशाना साधा है. अपने को अंगद और अरविंद केजरीवाल को रावण की संज्ञा देते हुए कहा यूपी उत्तराखंड पंजाब और गोवा में छठ पूजा बैन नहीं है तो दिल्ली में क्यो है? छठ पूजा का 100 करोड़ का बजट उत्तराखंड और पंजाब में खर्च कर चुके हैं इसलिए छठ पूजा कैसे कराए अब तो उनके मंत्री ही सवाल उठा रहे हैं. 

अयोध्या की रामलीला में अंगद का रोल निभा रहे मनोज तिवारी यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि, मैं अभी तक जो बोल रहा था वह अंगद ही बोल रहा था. अंगद मतलब राम के दल का एक व्यक्ति जो रावण को चुनौती देता है. रावण को समझाता है और मैं वैसे भी अरविंद केजरीवाल जी को समझा रहा हूं कि कल आप एक प्रपोजल दीजिए डीडीएमए को जैसे पूरे देश में छठ तो होगा वैसे दिल्ली में भी छठ होगा.

दिल्ली में छठ की अनुमति दें- मनोज तिवारी

मनोज तिवारी ने कहा कि, मेरी प्रार्थना छठ को लेकर यही है कि दिल्ली में ही छठ बैन है उत्तर प्रदेश में छठ बैन नहीं है उत्तराखंड में बैन नहीं है गोवा में बैन नहीं है पंजाब में बैन नहीं है बल्कि केवल सर्फ बैन है. दिल्ली में छठ को बैन किया गया. हम लोगों ने छठ समितियों से बात की अरविंद केजरीवाल जी को चिट्ठी लिखी हमने डीडीएमओ से बात की. दिल्ली सरकार का यह निर्णय है अब इसमें कोई डाउट नहीं है क्योंकि अरविंद केजरीवाल जी ने 5 दिन पहले एक अखबार में अपने बयान में स्पष्ट कहा है कि प्रतिबंध रहेगा. उन्होंने कहा कि मुझे बहुत दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि मैं आस्था की बात कर रहा हूं और वह राजनीति की बात कर रहे हैं. अभी भी मेरा प्रार्थना है कि कोरोना गाइडलाइन के तहत आप दिल्ली को भी छठ की अनुमति दें जैसे पूरे देश में है.

छठ का बजट कहीं और खर्च कर चुके हैं ये- मनोज तिवारी

मनोज तिवारी ने आगे कहा कि, जो छठ कराने का एक बजट होता है लगभग 100 करोड़ों रुपए का वो बजट वह पंजाब और उत्तराखंड में खर्च कर चुके हैं या खर्च कर रहे हैं. तो अब यह करेंगे तो कहां से खर्च देंगे यह इश्यू यहां फंसा हुआ है. उन्होंने कहा कि, यह फंड कहीं और खर्च कर चुके हैं अब वह चाहते हैं कि यहां छठ ना करना पड़े.

मनोज तिवारी ने आगे कहा कि, मैं अभी तक जो बोल रहा था वह अंगद ही बोल रहा था अंगद मतलब राम के दल का एक व्यक्ति जो रावण को चुनौती देता है रावण को समझाता है और मैं वैसे भी अरविंद केजरीवाल जी को समझा रहा हूं इसको अन्यथा ना लिया जाए हर की पैड़ी गंगा जी में लोग नहा रहे हैं उस पर कोई रोक नहीं तो पानी में खड़ा होने पर क्यों रोक है. 

यह भी पढ़ें.

Covid Vaccination: 100 करोड़ वैक्सीन डोज पूरे होने पर एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन पर होगा अनाउंसमेंट

नवजोत सिंह सिद्धू ने केसी वेणुगोपाल और हरीश रावत से की मुलाकात, जानें क्या हुई बात?

Source link ABP Hindi