आज का नक्षत्र: पूर्णिमा की तिथि और धनिष्ठा नक्षत्र में मनाया जाएगा रक्षाबंधन

Aaj Ka Nakshatra, Aaj Ki Tithi 22 August 2021, Aaj Ka Panchang: पंचांग के अनुसार आज के दिन यानी 22 अगस्त 2021, रविवार को श्रावण मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि है. आज रक्षाबंधन का पर्व है. इसके साथ ही श्रावण पूर्णिमा भी है. आज का दिन धार्मिक दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है.

आज की तिथि (Aaj Ki Tithi)
पूर्णिमा- आज पूर्णिमा की तिथि है. इस तिथि को श्रावण पूर्णिमा और कजरी पूनम के नामों से भी जाना जाता है. इस दिन रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाएगा. पूर्णिमा की तिथि को हिंदू धर्म में विशेष माना गया है. इस दिन पूजा-पाठ, अनुष्ठान और दान आदि का विशेष महत्व बताया गया है. पूर्णिमा की तिथि में भगवान शिव, माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा करना उत्तम फलदायी माना गया है. इस दिन चंद्रमा को जल देने से चंद्रमा शुभ फल प्रदान करता है.

आज का योग (Aaj Ka Yog)
22 अगस्त 2021 को पंचांग के अनुसार विशेष शुभ योग का निर्माण हो रहा है. इस योग को शोभन योग के नाम से जाना जाता है. रक्षाबंधन पर शोभन योग बना हुआ है, शोभन योग को शुभ योगों की श्रेणी में रखा गया है. शोभन योग में यात्रा करना अच्छा माना गया है. इसके साथ ही मांगलिक और शुभ कार्यों को करने के लिए भी इसे उत्तम माना गया है. शोभन योग में जन्म लेने वाले व्यक्तियों पर लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है. ऐसे लोग मान सम्मान भी प्राप्त करते हैं.

आज का नक्षत्र (Aaj Ka Nakshatra)
पंचांग के अनुसार 22 अगस्त, रविवार को धनिष्ठा नक्षत्र बना हुआ है. धनिष्ठा नक्षत्र को आकाश मंडल का 23वां नक्षत्र माना गया है. चारों तारों से मिलकर धनिष्ठा नक्षत्र बना हुआ है. धनिष्ठा नक्षत्र के स्वामी मंगल हैं और देवता वसु है. मंगल वर्तमान समय में सिंह राशि में विराजमान हैं. जहां पर ग्रहों के अधिपति सूर्य और ग्रहों के राजकुमार बुध भी मौजूद हैं.

यह भी पढ़ें:
Transit 2021: कन्या राशि में बुध का राशि परिवर्तन, जॉब-करियर और धन को लेकर मिल सकता है शुभ समाचार, जानें राशिफल

आर्थिक राशिफल 22 अगस्त 2021: रक्षाबंधन पर इन राशि वालों को रखना होगा ध्यान, मेष से मीन राशि तक जानें राशिफल

Bhadra 2021: सावन का माहीना हो रहा समाप्त, अब शुरू होगा भादो, जानें प्रतिपदा और पूर्णिमा की तिथि

Raksha Bandhan 2021: खुशखबरी! मकर राशि में रक्षाबंधन पर समाप्त हो रहा है ‘विष’ योग, कुंभ राशि में बनेगा ‘गजकेसरी’ योग

Source link ABP Hindi