इंग्लैंड के कप्तान रूट और कोच सिल्वरवुड निशाने पर, पूर्व कप्तान ने जमकर लताड़ा

IND Vs ENG: भारत के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट गंवाने के बाद से इंग्लैंड की टीम निशाने पर है. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान ने अपनी राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड और कप्तान जो रूट की भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के दौरान बाउंसर रणनीति के लिये आलोचना की.

मैच के पांचवें और अंतिम दिन लंच से पहले इंग्लैंड के गेंदबाजों ने भारत के पुछल्ले बल्लेबाजों मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के लिये लगातार बाउंसर किये. इन दोनों के बीच नौवें विकेट के लिये 89 रन की अटूट साझेदारी की मदद से भारत ने इंग्लैंड के सामने 272 रन का लक्ष्य रखा और बाद में उसकी टीम को 120 रन पर आउट कर दिया.

वॉन ने इंग्लैंड की टीम के रवैए को बुरा करार दिया है. वान ने कहा, ”दूसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन लंच से पूर्व के 20 मिनट के दौरान वह पतन देखने को मिला जो इंग्लैंड टेस्ट टीम का पिछले कई सालों में सबसे बुरा रवैया था.”

इंग्लैंड के निचले क्रम के बल्लेबाजों विशेषकर जेम्स एंडरसन को बाउंसर करने वाले बुमराह जब बल्लेबाजी के लिये आये तो उन्हें भी बाउंसर झेलने पड़े थे. इस बीच तेज गेंदबाज मार्क वुड और विकेटकीपर जोस बटलर से उनकी बहस भी हुई. इंग्लैंड की यह रणनीति हालांकि कारगर साबित नहीं हुई तथा बुमराह और शमी भारत को बेहतर स्थिति में पहुंचाने में सफल रहे.

इंग्लैंड पर उलटी पड़ी बाउंडर की रणनीति

वान ने कहा, ”इस बारे में बहुत कुछ लिखा और कहा जा चुका है कि जसप्रीत बुमराह को बाउंसर करने की रणनीति इंग्लैंड को उल्टी पड़ी. जो रूट को उनके कुछ सीनियर खिलाड़ियों ने वास्तव में निराश किया जिन्हें तुरंत ही दखल देना चाहिए था लेकिन मैं कोच से भी हस्तक्षेप की उम्मीद करता था.”

वॉन ने आगे कहा, ”सिल्वरवुड ने रूट को यह बताने के लिये किसी को पानी लेकर मैदान पर क्यों नहीं भेजा कि यह सब क्या चल रहा है और वह तुरंत अपनी रणनीति बदले. मैं जानता हूं कि यदि मैं ऐसा करता तो मेरे साथ डंकन फ्लैचर ने ऐसा ही किया होता.”

वॉन का मानना है कि सिल्वरवुड के अहम मौका गंवाने की वजह से इंग्लैंड को लॉर्ड्स टेस्ट में हार मिली. इंग्लैंड पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-1 से पीछे चल रहा है. सीरीज का तीसरा टेस्ट 25 अगस्त से खेला जाएगा. 

IND Vs ENG: बुमराह ने इंग्लैंड के खिलाफ किया था गुस्से का सही इस्तेमाल, जहीर खान का मिला साथ

Source link ABP Hindi