एंडरसन ने एनर्जी बचाने के लिए अपनाया यह तरीका, इंग्लैंड की जोरदार वापसी का राज भी खोला

India Vs England 3rd Test: लीड्स के हेडिंग्ले क्रिकेट ग्राउंड में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट के पहले दिन जेम्स एंडरसन ने शानदार गेंदबाजी की. 39 साल का होने के बावजूद एंडरसन ने लगातार 8 ओवर फेंकते हुए 6 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. एंडरसन ने अपनी कामयाबी का राज खोलते हुए बताया है कि वह इन दिनों नेट्स पर बेहद कम गेंदबाजी करते हैं. 

एंडरसन ने मैच के लिए एनर्जी बचाने का तरीका खोज लिया है. एंडरसन की गेंदबाजी की बदौलत ही इंग्लैंड ने पहले दिन विराट कोहली की टीम इंडिया को महज 78 रन पर ऑलआउट कर दिया. एंडरसन ने कहा, ”उम्र बढ़ने के साथ मुझे लगता है कि मुझे जिम में अधिक कड़ी मेहनत करनी चाहिए. मैं नेट्स पर कम गेंदबाजी करता हूं और इसे मैच के लिये बचाये रखने की कोशिश करता हूं जबकि यह अधिक मायने रखती है.”

एंडरसन ने आगे कहा, ”टेस्ट क्रिकेट का सबसे कड़ा एग्जाम खुद को बड़े स्पैल करने और बड़े मैचों में खेलने के लिए मानसिक रूप से तैयार करना है. ऐसे मैचों के लिए आपको एनर्जी चाहिए होती है और जब आप मैच में नहीं हैं तो आपको इसे बचाने का तरीका तलाशना पड़ता है.”

इंग्लैंड ने की शानदार वापसी 

लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान भी जेम्स एंडरसन शानदार फॉर्म में नज़र आ रहे थे. जेम्स एंडरसन ने लॉर्ड्स टेस्ट में पांच विकेट हासिल किए. हालांकि लॉर्ड्स टेस्ट की दूसरी पारी में एंडरसन थकान में दिखाई दिए. उन्होंने कहा, ”लार्ड्स में दूसरे टेस्ट मैच के दौरान मैदान से वापस लौटते समय थोड़ा परेशानी हो रही थी लेकिन मैं संतुष्ट था कि मैंने टीम की जरूरत के हिसाब से यह बदलाव किया.”

भारत के खिलाफ लॉर्ड्स की हार से वापसी करने के लिए इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने खुद पर काम किया है. स्टार तेज गेंदबाज ने कहा, ”हमने केवल अपने काम पर ध्यान दिया. हमने बाहर जो कुछ भी हो रहा है उसे नजरअंदाज करने की कोशिश की और सुनिश्चित किया कि हमारा ध्यान केवल अच्छा प्रदर्शन करने पर ही रहे.”

Vinesh Phogat को भारतीय कुश्ती महासंघ ने किया माफ, लेकिन आजीवन बैन की चेतावनी भी दी

Source link ABP Hindi