कब से आरंभ हो रहा है भाद्रपद? इस महीने में नहीं किए जाते हैं ये काम

Bhadrapada Month Start and End Date: भाद्रपद मास को हिंदू कैंलेडर के अनुसार छठा महीना माना गया है. भाद्रपद मास को भादों का महीना भी कहा जाता है. भाद्रपद मास को भक्ति और मुक्ति के महत्व बताने वाला महीना माना गया है. भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद मास में ही मनाया जाता है.

चातुर्मास 2021
वर्तमान समय में चातुर्मास चल रहा है. सावन का महीना चातुर्मास का पहला महीना माना जाता है. भाद्रपद मास चातुर्मास का दूसरा महीना है. शास्त्रों में चातुर्मास का विशेष महत्व बताया गया है. पंचांग के अनुसार चातुर्मास देवशयनी एकादशी से आरंभ होता है और देवउठानी एकादशी की तिथि पर समाप्त होता है. चातुर्मास में भगवान विष्णु की उपासना विशेष फलदायी मानी गई है. चातुर्मास का समापन 14 नबंवर 2021 को होने जा रहा है.

भाद्रपद मास 2021
भाद्रपद मास 23 अगस्त से आरंभ होगा और 20 सितंबर 2021 को इस मास का समापन होगा. शास्त्र में भाद्रपद मास का विशेष महत्व बताया गया है. भाद्रपद मास का विशेष धार्मिक महत्व है. भाद्रपद मास के कुछ नियम भी बताए गए हैं. इन नियमों का पालन करने से तन और मन को ऊर्जा मिलती है. भाद्रपद मास में इन बातों का ध्यान रखना चाहिए.

  • भाद्रपद मास में पंचगव्य का विशेष महत्व बताया गया है. 
  • व्रत यानी उपवास रखना चाहिए.
  • गुड़ का सेवन भाद्रपद मास में नहीं करना चाहिए.
  • शहद ग्रहण नहीं करना चाहिए.
  • मांस-मदिरा का त्याग करना चाहिए.
  • गलत आदत और गलत संगत से दूर रहें.
  • मूली और बैंगन आदि का सेवन नहीं करना चाहिए.

भाद्रपद मास में इन कार्यों को करना चाहिए
भाद्रपद मास में अनुशासित जीवनशैली को अपनाना चाहिए. इससे सेहत ठीक रहती है. भाद्रपद मास में व्रत का विशेष महत्व बताया गया है. भाद्रपद मास में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, हरतालिका तीज, गणेशोत्सव, ऋषि पंचमी, डोल ग्यारस और अनंत चतुर्दशी आदि व्रत और पर्व मनाए जाते हैं. भाद्रपद मास में विचारों में सकारात्मकता लाने का प्रयास करना चाहिए और धर्म कर्म के कार्यों में रुचि लेना चाहिए.

यह भी पढ़ें:
Dhanteras 2021: इस साल कब है धनतेरस? जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Monthly Horoscope Bhadrapada 2021: मेष, सिंह और तुला राशि वालों के साथ इन सभी राशियों को धन के मामले में देना होगा विशेष ध्यान, जानें राशिफल

Diwali 2021: दिवाली कब की है? इस बार लक्ष्मी पूजन पर बन रहा है विशेष योग

Bhadra 2021: सावन का माहीना हो रहा समाप्त, अब शुरू होगा भादो, जानें प्रतिपदा और पूर्णिमा की तिथि

Source link ABP Hindi