कर्नाटक बना राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला देश का पहला राज्य

National Education Policy: कर्नाटक ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 को लागू कर दिया है. इसके साथ ही कर्नाटक सोमवार को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 को लागू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया. मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि सरकार इस नई शिक्षा नीति को लागू करने में मदद करने के लिए डिजिटलीकरण और अनुसंधान एवं विकास की दो नीतियों को शुरू करेगी.

मुख्यमंत्री ने कर्नाटक में एनईपी की शुरुआत करते हुए कहा, ‘कर्नाटक एनईपी, 2020 लागू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है. अगर हम इसे सफल बनाना चाहते हैं तो हमें इसे राज्य के प्रत्येक बच्चे तक पहुंचाना होगा.’ केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान इस कार्यक्रम में ऑनलाइन माध्यम से शामिल हुए और अन्य राज्यों के लिए उदाहरण प्रस्तुत करने पर कर्नाटक की सराहना की.

नई डिजिटलीकरण नीति

मुख्यमंत्री ने डिजिटलीकरण की जरूरत को रेखांकित करते हुए कहा, ‘डिजिटलीकरण शिक्षा के लिए महत्वपूर्ण है, जिसके लिए हम एक नई डिजिटलीकरण नीति लेकर आएंगे, जो प्रत्येक गांव, विद्यालय, विश्वविद्यालय पहुंचेगी और डिग्री स्तर के विद्यार्थियों को इसके तहत आईपैड प्रदान किया जाएगा.’ उन्होंने एनईपी के माध्यम से शिक्षा में बुनियादी बदलाव लाने के लक्ष्य के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की.

स्कूल खुले

वहीं कर्नाटक में कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल 23 अगस्त से फिर से खोल दिए गए हैं. हालांकि स्कूल केवल कुछ चुनिंदा जिलों में ही खोले गए हैं. कर्नाटक राज्य सरकार ने एक स्टेटमेंट ऑफ प्रोसीजर (SOP) जारी किया है और सभी शैक्षणिक संस्थानों के लिए SOP में बताए गए मानदंडों का पालन करना अनिवार्य है.

यह भी पढ़ें: कर्नाटक में खुले 9वीं से 12वीं तक के स्कूल, यूपी में कब खुलेंगे कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूल? जानें अपडेट

Source link ABP Hindi