काबुल हमले पर राष्ट्रपति बाइडेन ने कहा- हमलावरों को माफ नहीं करेंगे, इसकी कीमत चुकानी होगी

Kabul Airport Blast: काबुल हवाई अड्डे के बाहर बम धमाकों में अमेरिकी सैनिकों समेत 70 से ज्यादा लोगों की मौत होने के बाद व्हाइट हाउस ने राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ इजराइल के नए प्रधानमंत्री की पहली बैठक का कार्यक्रम टाल दिया और अफगान शरणार्थियों के विषय पर गवर्नरों के साथ होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंस को रद्द कर दिया. वहीं हमले को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा है कि हमलावरों को माफ नहीं करेंगे.

काबुल हमले को लेकर व्हाइट हाउस से अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा, ‘हम हमलावरों को माफ नहीं करेंगे. हम नहीं भूलेंगे. हम आपका शिकार करेंगे और आपको इसकी कीमत चुकानी होगी. हम अफगानिस्तान से अमेरिकी नागरिकों को बचाएंगे. हम अपने अफगान सहयोगियों को बाहर निकालेंगे और हमारा मिशन जारी रहेगा.’

वहीं अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए धमाके के बाद व्हाइट हाउस को राष्ट्रपति के कार्यक्रम में फेरबदल करना पड़ा है और अब बाइडेन, हवाई अड्डे की स्थिति पर चर्चा कर रहे हैं. व्हाइट हाउस की ओर से कहा गया कि बेनेट और बाइडेन की बैठक अनिश्चितकाल के लिए टाल दी गई है जबकि गवर्नरों की बैठक को रद्द कर दिया गया है.

कई लोगों की मौत

बता दें कि अफगानिस्तान में गुरुवार को काबुल हवाई अड्डे के पास दो आत्मघाती हमले हुए. हमले में कम से कम 72 लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्य के घायल होने की खबर है. एक अफगान अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि हवाई अड्डे पर हुए हमले में कम से कम 60 अफगान मारे गए और 143 अन्य घायल हुए हैं. वहीं अमेरिका के दो अधिकारियों के मुताबिक हमले में 11 अमेरिकी नौसैनिकों और नौसेना का एक चिकित्साकर्मी भी मारे गए हैं. उन्होंने बताया कि हमले में 12 और सेवारत कर्मी घायल हुए है और मृतकों की संख्या बढ़ सकती है.

यह भी पढ़ें:
Kabul Airport Blast: भारत ने काबुल में हुए बम धमाकों की निंदा की, कहा- आतंक के खिलाफ दुनिया को एक साथ आने की जरूरत
Kabul Airport Blast: हवाई अड्डे के पास बम धमाकों से दहला काबुल, अब तक 72 लोगों की मौत, कई घायल

Source link ABP Hindi