कारोबारी पीयूष जैन के घर से मिले 194.45 करोड़ रुपये कैश, 23 किलो सोना और 600 किलो चंदन का तेल

Kanpur-Kannauj Raid: कानपुर में कारोबारी पीयूष जैन (Piyush Jain) के घर से 194.45 करोड़ रुपये की कुल नकदी बरामद की गई है. इसके अलावा 23 किलो गोल्ड और 6 करोड़ रुपये का चंदन का तेल भी बरामद किया गया है. पीयूष जैन को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया गया है. डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस (DGGI) ने विस्तार से इस छापेमारी की जानकारी दी है. डीजीजीआई ने बताया कि 22 दिसंबर को कानपुर-कन्नौज में शिखर पान मसाला बनाने वाली फैक्टरी परिसर समेत अन्य जगहों पर छापेमारी की गई थी.  

गणपति रोड कैरियर्स की ओर से संचालित 4 ट्रकों को इंटरसेप्ट करने के बाद मालूम चला कि जीएसटी की चोरी की गई है. अधिकारियों ने कारखाने में उपलब्ध वास्तविक स्टॉक को किताबों में दर्ज स्टॉक के साथ मिलान किया और कच्चे माल और तैयार उत्पादों की कमी पाई.

इससे पता चला कि मैन्युफैक्चरर ट्रांसपोर्टर की मदद से माल को गुप्त रूप से छिपाने में शामिल था, जो उस माल के ट्रांसपोर्टेशन के प्रबंधन के लिए नकली इनवॉइस जारी करता था. अधिकारियों को ऐसे 200 नकली इनवॉइस मिले हैं. 

इसके बाद कानपुर में 22 दिसंबर को रेड शुरू की गई, जिसमें अब तक 177 करोड़ का कैश बरामद हुआ है. यह सीबीआईसी अधिकारियों द्वारा जब्त की गई सबसे बड़ी रकम है. इसके अलावा परिसर से जो डॉक्युमेंट्स मिले हैं, उनकी भी जांच की जा रही है. 

वहीं कन्नौज में की गई रेड में अब तक 17 करोड़ रुपये कैश मिले हैं, जिनकी गिनती जारी है. इसके साथ-साथ 23 किलो सोना और परफ्यूम बनाने में इस्तेमाल होने वाला कच्चा माल भी मिला है. अंडरग्राउंड स्टोरोज में 600 किलो चंदन का तेल मिला है, जिसकी मार्केट वैल्यू 6 करोड़ रुपये है.  चूंकि जो सोना बरामद हुआ है, उस पर विदेशई मार्किंग है इसलिए डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस यानी डीआरआई को भी जांच में शामिल किया गया है. 

अब तक जांच में मिले सबूतों के आधार पर पीयूष जैन से डीजीजीआई अधिकारियों ने पूछताछ की है. उनका स्टेटमेंट रिकॉर्ड कर लिया गया है. पीयूष जैन ने यह स्वीकार किया है कि उनके घर से जो कैश मिला है, वो बिना जीएसटी के माल की बिक्री से जुड़ा है. इसके बाद पीयूष जैन को कोर्ट में पेश किया गया, जिसके बाद उन्हें 14 दिन के लिए जेल भेज दिया गया. 

Source link ABP Hindi