केदारनाथ हाईवे पर चट्टान टूटने से मार्ग बंद, वाहन चालकों ने भागकर बचाई अपनी जान

Landslide in Uttarakhand: रुद्रप्रयाग जिले में हो रही मूसलाधार बारिश (Rain) से लोग दहशत में हैं. बारिश का सबसे ज्यादा असर राजमार्गों पर देखने को मिल रहा है. एक ओर जहां बद्रीनाथ-ऋषिकेश हाईवे (Rishikesh-Badrinath Highway) के सिरोबगड़ में बीती रात्रि को भूस्खलन (Landslide) होने से राजमार्ग पर भारी मलबा आ गया, जिसकी चपेट में कई वाहन भी आकर क्षतिग्रस्त हो गए. वहीं दूसरी ओर केदारनाथ हाईवे पर अभी कुछ देर पहले चट्टान टूटने से राजमार्ग बंद हो गया है. यह दृश्य लोगों ने कैमरे में कैद कर दिया और अब वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से लोग दहशत में हैं.

बता दें कि रुद्रप्रयाग जिले में आफत की बारिश बरस रही है. बारिश के कारण लोगों में दहशत का माहौल पैदा हो गया है. जगह-जगह राजमार्गों पर मलबा आने से जन जीवन पूरी तरह से प्रभावित हो गया है. शहरी इलाकों से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक लोग परेशान हैं. ऋषिकेश-बद्रीनाथ हाईवे बीती रात से बंद पड़ा हुआ है, जबकि केदारनाथ हाईवे के तहसील के पास चट्टान टूटने के दृश्य ने लोगों के मन में भय पैदा कर दिया है. कुछ देर पहले ही यहां पर पहाड़ी का एक हिस्सा टूटकर राजमार्ग पर आ गिरा. यह दृश्य लोगों ने कैमरे में कैद कर लिया, जिसके बाद यह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. 

बद्रीनाथ हाईवे के साथ ही केदारनाथ हाईवे पर भी जगह-जगह भूस्खलन होने से केदारघाटी की जनता खासी परेशान है. केदारनाथ और बद्रीनाथ हाईवे बंद होने से दूरस्थ क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति ठप पड़ी है. इधर, दूसरी ओर देर रात से अभी तक बद्रीनाथ हाईवे सिरोबगड़ और नरकोटा में बन्द पड़ा है. सिरोबगड़ में हाईवे को खोलने में आज पूरा दिन लग सकता है.

बद्रीनाथ हाईवे पर लंबा जाम लगा हुआ है

ऋषिकेश-बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर सिरोबगड़ में पहाड़ी से आये मलबे और बोल्डरों ने जमकर तबाही मचाई है. पहाड़ी मलबे में एक ट्रक, एक ट्रोला, एक छोटा हाथी, एक सेंट्रो कार, एक नेक्सन कार सहित अन्य वाहनों को भारी क्षति पहुंची है. ट्रक और ट्रोला तो पहाड़ी पर अटके हैं. रात के समय वाहन में सवार लोगों ने किसी तरह से भागकर अपनी जान बचाई.

बद्रीनाथ हाईवे पर लंबा जाम लगा हुआ है और कई लोग यहां फंसे पड़े हैं. पांच किमी के एरिया में बद्रीनाथ हाईवे पर भारी भूस्खलन हुआ है. फिलहाल हाईवे खुलने के कोई आसार नहीं हैं. दोनों ओर से हाईवे बन्द होने के कारण वाहन चालक बीच में फंस गए हैं. हाईवे पर पैदल चलने लायक भी जगह नहीं है. वाहन चालकों ने बताया कि रात के समय उन्होंने किसी तरह से भागकर अपनी जान बचाई है. रात एक बजे के बाद जब बारिश हुई तो हाईवे पर दोनों और से मलबा आ गया. जिस कारण वह फंस गए और भागकर अपनी जान बचाई.

यह भी पढ़ें-

जानिए- कौन हैं भीम राजभर? मुख्तार अंसारी का टिकट काट कर मायावती ने मऊ से बनाया है उम्मीदवार

मायावती ने चुनाव में टिकट काटा तो ओवैसी की पार्टी का एलान- मुख्तार अंसारी को टिकट देने के लिए हैं तैयार

Source link ABP Hindi