कैसे होती है डायबिटीज? जानिए डायबिटीज के प्रकार और कैसा होना चाहिए आहार?

Fruits And Vegetables For Diabetes: आजकल भागदौड़ भरी जीवनशैली (Lifestyle) में अनियमित खान-पान की वजह से कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ गया है. डायबिटीज (Diabets) भी एक ऐसी बीमारी है जिसकी बड़ी वजह आपकी लाइफस्टाइल ही है. खासबात ये है कि डायबिटीज धीरे-धीरे आपके शरीर के दूसरे हिस्सों को प्रभावित करना शुरु कर देती है. इसीलिए डायबिटीज को साइलेंट किलर (Silent Killer) कहा जाता है. डायबिटीज होने पर आपकी आंखों (Eye), किडनी (kidney), लिवर (Liver), हार्ट (Heart) और पैरों में दिक्कत होने लगती है. पहले करीब 40 साल की उम्र के बाद ही डायबिटीज होता था, लेकिन अब बच्चों में भी डायबिटीज (Diabetes in Kids) की समस्या हो रही है.

कैसे होता है डायबिटीज (What is Diabetes)

जब शरीर के पैंक्रियाज में इंसुलिन कम पहुंचता है तो खून में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है. इस स्थिति को डायबिटीज कहा जाता है. इंसुलिन एक हार्मोन है जो हमारे शरीर में पाचक ग्रंथि से बनता है. इसका काम भोजन को एनर्जी में बदलने का होता है. इंसुलिन से ही हमारे शरीर में शुगर की मात्रा कंट्रोल होती है. अगर किसी को डायबिटीज हो जाता है तो शरीर को भोजन से एनर्जी बनाने में मुश्किल होती है. ऐसी स्थिति में शरीर में ग्लूकोज का स्तर बढ़ जाता है, जो शरीर के दूसरे अंगों को भी नुकसान पहुंचाता है. 

Food For Diabetics: कैसे होती है डायबिटीज? जानिए डायबिटीज के प्रकार और कैसा होना चाहिए आहार?

डायबिटीज के प्रकार (Cause And Types Of Diabetes)

आपने ज्यादातर लोगों से टाइप-1 और टाइप-2 डायबिटीज के बारे में सुना होगा. डायबिटीज ज्यादातर वंशानुगत और खराब जीवनशैली की वजह से होता है. इसमें टाइप-1 डायबिटीज वंशानुगत हो सकता है, तो वहीं टाइप-2 डायबिटीज की बड़ी वजह अनियमित जीवनशैली को माना जाता है. अगर आपके परिवार में माता-पिता, दादा-दादी में से किसी को डायबिटीज है तो परिवार के किसी भी सदस्य को टाइप-1 डायबिटीज होने का खतरा हो सकता है. वहीं कम शारीरिक श्रम करने, नींद कम लेने, अनियमित खान-पान, ज्यादा फास्ट फूड और मीठा खाने से टाइप-2 डायबिटीज होने का खतरा हो जाता है. 

डायबिटीज में फल और सब्जियां (Fruits And Vegetables In Diabetes)

हमारी डाइट का ब्लड शुगर लेवल पर सीधा असर पड़ता है. ऐसे में डायबिटीज के मरीज को अपनी डाइट (Diabetes Diet) का बहुत ध्यान रखने की जरूरत होती है. डायबिटीज होने पर आपको (Diabetes Patient) बड़ा सोच समझ कर फल और सब्जियों का चुनाव करना चाहिए. आपको डाइट में ऐसे फल और सब्जियां लेने चाहिए जिससे आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल (Control Diabetes) रहे. आपको लो शुगर वाले फल जिनमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेट्री गुण अच्छी मात्रा में हो उन्हें अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए. ब्लड शुगर को मैनेज (Manage Blood Sugar Level) करने के लिए बिना स्टार्च वाली सब्जियां खानी चाहिए. 

Food For Diabetics: कैसे होती है डायबिटीज? जानिए डायबिटीज के प्रकार और कैसा होना चाहिए आहार?

1- भिंडी (Ladyfinger)- डायबिटीज के मरीज के लिए भिंडी सब्जी का अच्छा ऑप्शन है. भिंडी में स्टार्च नहीं होता और घुलनशील फाइबर पाया जाता है.  भिंडी आसानी से पच जाती है. इससे ब्लड शुगर भी कंट्रोल रहता है. भिंडी में मौजूद पोषक तत्व इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करते हैं. इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो शरीर को बीमारियों से बचाते हैं.

2- गाजर (Carrot)- गाजर में भरपूर मात्रा में विटामिन ए और ढ़ेर सारे मिनरल्स पाए जाते हैं. डायबिटीज के मरीज को खाने में गाजर जरूर शामिल करनी चाहिए. ऐसे लोगों को सब्जी की बजाय सलाद के तौर पर कच्ची गाजर खानी चाहिए. गाजर में फाइबर काफी मात्रा में पाया जाता है. इससे बॉडी में धीरे-धीरे शुगर रिलीज होता है. 

3- हरी सब्जियां (Green Vegetables)- डायबिटीज होने पर आपको खाने में हरी सब्जियां जरूर शामिल करनी चाहिए. आपको खाने में पालक, लौकी, तोरई, पत्तेदार सब्जियां और ब्रोकली शामिल करनी चाहिए. ये सब्जियां फाइबर से भरपूर होती हैं. ये सब्जियां डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं. इनमें विटामिन ए और सी काफी होता है. वहीं कैलोरीज की मात्रा बहुत कम होती है. ब्रोकली डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है. वजन घटाने में भी ब्रोकली मदद करती है. 

4- पत्ता गोभी (Cabbage)- पत्ता गोभी भी डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद है. पत्ता गोभी में स्टार्च की मात्रा बहुत कम होती है. पत्ता गोभी एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन्स से भरपूर है. इसमें फाइबर भी भरपूर होता है. डायबिटीज के मरीजों के लिए पत्ता गोभी बहुत पायदेमंद है. आप सलाद या सब्जी के तौर पर पत्ता गोभी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

5- खीरा (Cucumber)- खीरा खाने से ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है. इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है. गर्मियों में खीरा खाना सेहत के लिए अच्छा होता है. खीरा में पानी अच्छी मात्रा में होता है. खीरे में स्टार्च बिल्कुल नहीं होता है. वजन घटाने के लिए भी खीरा बहुत कारगर है. पेट को स्वस्थ रखने में भी खीरा मदद करता है.

Food For Diabetics: कैसे होती है डायबिटीज? जानिए डायबिटीज के प्रकार और कैसा होना चाहिए आहार?

6- सेब (Apple)- एप्पल स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है. रोज एक सेब खाने से शरीर बीमारियों से दूर रहता है. डायबिटीज के मरीज के लिए भी सेब बहुत अच्छा फल है. सेब में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार का फाइबर काफी होता है. जिससे ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है. सेब खाने से पेट अच्छा रहता है और वजन भी कंट्रोल रहता है. 

7- संतरा (Orange)- फलों में संतरा को सुपरफूड माना गया है. डायबिटीज के मरीज के लिए भी संतरा बहुत गुणकारी है. इसमें भरपूर फाइबर, विटामिन सी, फोलेट और पोटेशियम पाया जाता है. जिससे डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिलती है. 

8- आड़ू (Peach)- आड़ू फुल ऑफ फाइबर फूड है. आड़ू खाने से ब्लड शुगर भी कंट्रोल रहता है. करीब 100 ग्राम आड़ू में 1.6 ग्राम फाइबर होता है. गर्मी और बारिश के मौसम में आड़ू आपको काफी मिल जाएगा. आड़ू पहाड़ों पर पाया जाने वाला फल है. शुगर के मरीज को आड़ू जरूर खाना चाहिए.

9- अमरूद (Guava)- अमरूद काफी सस्ता लेकिन सेहत के लिए फायदेमंद फल है. अमरुद में लो ग्लाइकैमिक इंडेक्स यानी जीआई होता है, जिससे शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है. अमरूद में विटामिन सी, विटामिन ए, फॉलेट, पोटैशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. डायबिटीज और हार्ट के मरीज के लिए अमरूद बहुत अच्छा फल साबित होता है.

5- कीवी (Kiwi)- कीवी खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है. खासबात ये है कि ये सभी सीजन में आसानी से मिल जाता है. कीवी में विटामिन ए और सी भरपूर होता है. एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर कीवी खाने से ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल रहता है. इससे शरीर में ग्लूकोज की मात्रा कम करने में मदद मिलती है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

ये भी पढ़ें: क्या है स्पिरुलिना? कोलेस्ट्रॉल घटाने से लेकर शरीर को पहुंचाता है कई गज़ब के फायदे

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link ABP Hindi