कोयला घोटाला केस: टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी ने ED को लिखा पत्र, जानें क्या कहा?

Coal Scam Case: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा ने पत्र लिख कर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताई है. पिछले दिनों कोयला घोटाला के मामले में ईडी ने तृणमूल महासचिव और डायमंड हार्बर से सांसद अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी को समन किया था और दिल्ली में पूछताछ के लिए बुलाया था. रुजिरा बनर्जी को एक सितंबर यानि आज ईडी के सामने पेश होने को कहा गया था वहीं अभिषेक बनर्जी को तीन सितंबर को बुलाया गया है.

पत्र में रुजिरा ने एजेंसी के अधिकारियों से अनुरोध किया कि वे उनके कोलकाता स्थित आवास पर आकर पूछताछ करें. रुजिरा ने ईडी के सहायक निदेशक सुमत प्रकाश जैन को लिखे अपने पत्र में कहा, ‘‘18 अगस्त 2021 को जारी समन में मुझे एक सितंबर को नयी दिल्ली में व्यक्तिगत रूप से पेश होने को कहा गया है. मैं दो बच्चों की मां हूं और मौजूदा महामारी के बीच अकेले नयी दिल्ली की यात्रा करने से मुझे और मेरे बच्चों को गंभीर परेशानी हो सकती है.’’

उन्होंने कहा, “यह मेरे लिए सुविधाजनक होगा, अगर आप मुझे कोलकाता में मेरे आवास पर उपस्थित होने के लिए कहें क्योंकि आपके संगठन का कार्यालय कोलकाता में भी है और मैं भी कोलकाता में रहती हूं.” 

उन्होंने कहा, “इसके अलावा, मेरी समझ में, आपकी जांच की विषय वस्तु की कार्रवाई का कथित कारण भी पश्चिम बंगाल से संबंधित है. आप अपने निर्णय से अवगत करा दें. मैं आपको अपनी ओर से हर तरह से सहयोग का आश्वासन देती हूं.” सीबीआई की एक टीम ने कोयला चोरी मामले में फरवरी में रुजिरा से उनके आवास पर पूछताछ की थी.

ममता ने साधा था निशाना
ईडी के समन से खफा सीएम ममता ने पिछले दिनों केंद्र सरकार पर देश के ‘संघीय ढांचे को तहस-नहस करने’ और राज्यों के अधिकारों को छीनने की कोशिश करने का आरोप लगाया था.

ईडी ने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की नवंबर, 2020 की एक प्राथमिकी का अध्ययन करने के बाद पीएमएलए की आपराधिक धाराओं के तहत यह मामला दर्ज किया था. सीबीआई की प्राथमिकी में आसनसोल और उसके आसपास कुनुस्तोरिया और कजोरा इलाकों में ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की खदानों से संबंधित करोड़ों रुपये के कोयला चोरी घोटाले का आरोप लगाया गया है.

इस मामले में अनूप माझी उर्फ लाला मुख्य संदिग्ध है. ईडी ने पहले दावा किया था कि अभिषेक बनर्जी इस अवैध व्यापार से प्राप्त धन के लाभार्थी हैं, जबकि उन्होंने सभी आरोपों से इनकार किया है. 

असम: बदरुद्दीन अजमल की पार्टी के विधायक ने इस्तीफा दिया, बीजेपी में शामिल होने की संभावना

Source link ABP Hindi