कोरोना पर ABP की मुहिम का असर, यूपी में वर्चुअल रैली पर मंथन कर रही है बीजेपी

Corona in India: देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट के बीच एबीपी न्यूज लगातार ये सवाल पूछ रहा है कि जब देश के अलग अलग इलाकों में पाबंदियां लग रही हैं. नाइट कर्फ्यू लगाए जा रहे हैं तो दिन में होने वाली चुनावी रैलियों (Election Rally) पर रोक क्यों नहीं लग रही है. एबीपी न्यूज की मुहिम अब रंग लाती दिख रही है. यूपी (Uttar Pradesh) में वर्चुअल रैली कराने पर विचार हो रहा है.

यूपी में वर्चुअल रैली पर मंथन कर रही है बीजेपी

देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में बीजेपी (BJP) वर्चुअल रैली पर मंथन कर रही है. पार्टी के अंदर इसके लिए जरूरी तैयारी पर चर्चा हो रही है. दूसरी तरफ केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal) ने आंबेडकर को लेकर पांच जनवरी को होने वाला कार्यक्रम स्थगित कर दिया है. ये कार्यक्रम जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होना था.

केजरीवाल ने भी स्थगित किया कार्यक्रम

तीन दिन पहले 23 दिसंबर को आंबेडकर के सम्मान में कार्यक्रम किए जाने की जानकारी देने के लिए दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया मीडिया के सामने आए थे. तब भी एबीपी न्यूज़ ने कोरोना काल में इस तरह के आयोजन पर सवाल उठाया था. हालांकि सिसोदिया ने प्रोटोकॉल पालन की बात कही थी. लेकिन अब कोरोना के खतरे को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने ये कार्यक्रम स्थगित कर दिया है.

कोरोना के बीच रैलियों पर पाबंदी कब?

देश में जानलेवा कोरोना वायरस महामारी के केस एक बार फिर बढ़ रहे हैं. साथ ही इसके सबसे खतरनाक वेरिएंट ओमिक्रोन के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं. एबीपी न्यूज लगातार ये सवाल उठा रहा है कि क्या कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए चुनावी रैलियों पर रोक नहीं लगनी चाहिए? क्योंकि हाई कोर्ट भी कोरोना के केस बढ़ने पर चिंता जता चुका है और चुनाव आयोग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से रैलियों पर रोक लगानी की अपील की है.

Source link ABP Hindi