छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने फिर एक युवक को उतारा मौत के घाट जानिए क्या है वजह

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के औंधी थाना क्षेत्र में एक बार फिर नक्सलियों की कायराना हरकत सामने आई है. नक्सलियों ने गांव के एक युवक को पुलिस मुखबिरी के शक पर घर से उठाकर डंडे मार मारकर मौत के घाट उतार दिया है.

घर के कुछ ही दूरी पर मौत के घाट उतारा

दरअसल औंधी थाना क्षेत्र के अंतर्गत निडेली गांव में रहने वाला युवक तिजुराम बोगा को नक्सलियों ने सुबह 4:00 बजे उसके घर से उसे उठाकर ले गए और घर से कुछ ही दूरी पर ले जाकर उसकी बेरहमी से डंडे से मारकर हत्या कर दी. मृतक की पत्नी उर्मिला बोगा ने बताया कि करीब 4:00 बजे 4 हथियार बंध नक्सलियों से घर का दरवाजा खटखटाया और तिजुराम को घर से उठा कर ले गए. इस दौरान उसकी पत्नी ने नक्सलियों को रोकने की भी कोशिश की. लेकिन नक्सलियों ने उसे धक्का देकर गिरा दिया और मृतक की पत्नी को धमकी दी कि घर से बाहर न निकले नहीं तो तुम्हें मार देंगे. फिर उसके बाद नक्सलियों ने पीरु राम की घर से कुछ ही दूरी पर हत्या कर दी.

घर से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर मिला युवक का शव

जब सुबह रात का अंधेरा हटा तो उसकी पत्नी ने गांव के लोगों को इस घटना की सूचना दी. घटना की सूचना गांव के लोगों को मिलते ही घर के आस-पास तिजुराम की तलाश शुरू की. खोजबीन के दौरान घर से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर तेजू राम का शव मिला. शव के मिलने से गांव में दहशत फैल गई और गांव के लोगों ने इस घटना की जानकारी औंधी थाना पुलिस को दी.

पुलिस मुखबिरी के शक पर नक्सलियों ने मौत के घाट उतारा

घटना की जानकारी मिलते ही औंधी थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर घटनास्थल का मुआयना किया और घटना की जांच में जुट गई है.शव मिलने वाली जगह से कुछ ही दूरी पर पेड़ पर नक्सलियों ने पर्चा लटका कर इस हत्या की वजह बताते हुए लिखा है कि पुलिस मुखबिरी की वजह से इसकी हत्या की गई है. राजनांदगांव एसपी डी श्रवण ने बताया कि घटना की जानकारी लगते ही पुलिस वहां पहुंच गई थी. घर से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर ही युवक का शव मिला है. जिसका पुलिस पंचनामा कर जांच में जुट गई हैं. वही कुछ दूरी पर एक पेड़ पर नक्सलियों ने पर्चा लटकाया है. जिस पर लिखा है कि पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाना और पुलिस मुखबिरी करने की वजह से इस हत्या को अंजाम दिया है. फिलहाल पुलिस मृतक का पोस्टमार्टम कर परिजनों को शव सौंप दिया.

इसे भी पढ़ें : 

Chhattisgarh News: कालीचरण की जमानत याचिका रायपुर कोर्ट में खारिज, जानें कब रहेंगे सलाखों के पीछे

Chhattisgarh News: जानें अम्बिकापुर में कैसे बनी तोते की मजार, यहां पूरी होती है हर फरियाद ! 

Source link ABP Hindi