छावला में रेस्टोरेंट के वेटर की हत्या के मामले में एक नाबालिग को पुलिस ने पकड़ा

Delhi Crime News: छावला इलाके में एक रेस्टोरेंट के वेटर की गोली मारकर की गई हत्या के मामले में स्पेशल सेल ने एक नाबालिग को पकड़ा है. पुलिस ने दावा किया है कि वारदात में दो नाबालिग शामिल थे, जिसमें से एक को पकड़ लिया गया है, दूसरे की तलाश की जा रही है. दोनों नाबालिगों को गैंगस्टर कपिल सांगवान उर्फ नंदू के कहने पर हायर किया गया था. मकसद रेस्टोरेंट के मालिक पर गोली चलवाना था, लेकिन नाबालिग उसे पहचान नहीं पाए और धोखे से वेटर को गोली मार दी. पकड़ा गया नाबालिग 17 साल का है और 12वीं कक्षा का छात्र है.

क्या है मामला

सोमवार शाम को द्वारका जिला के छावला थाना इलाके में स्थित एक रेस्टोरेंट के बाहर एक युवक को गोली मार दी गई थी. युवक की मौत हो गयी थी, जिसकी पहचान गुलाम साबिर(18) के तौर पर हुई. वह रेस्टोरेंट में वेटर का काम करता था. शुरुआती जांच में ऐसा प्रतीत हुआ कि कहासुनी में ये हत्या की गई है. द्वारका जिला पुलिस के साथ साथ स्पेशल सेल की टीम भी जांच में जुट गई. स्पेशल सेल ने इस मामले में हरियाणा के एक गांव से 17 साल के एक लड़के को पकड़ा. जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत काउंसलर के सामने उससे पूछताछ की गई. उसने खुलासा किया कि उसके साथ एक और नाबालिग भी इस वारदात में शामिल है. 

कपिल सांगवान उर्फ नंदू ने काम के बदले लाखों रुपये देने के लिए कहा था

स्पेशल सेल सूत्रों का कहना है कि जांच में सामने आया है कि नंदू ने रेस्टोरेंट के मालिक विकास यादव से प्रोटेक्शन मनी के तौर पर 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी. विकास ने रकम देने से मना कर दिया. जिसके बाद नंदू ने अपने साथियों ज्योति सांगवान और नकुल से कहा कि रेस्टोरेंट मालिक पर गोली चलवाई जाए और इस काम के लिए नाबालिग लड़कों से काम लिया जाए. बदले में उन्हें मोटी रकम दी जाए.

यूनाइटेड किंगडम में बैठ कर दिल्ली में गैंग चला रहा है नंदू

पुलिस का कहना है कि कपिल सांगवान उर्फ नंदू यूनाइटेड किंगडम में बैठ कर दिल्ली में गैंग चला रहा है. ज्योति उसका भाई है. ज्योति मंडोली जेल में है जबकि नकुल रोहिणी जेल में. दोनों ने जेल में रहते हुए ही इस काम के लिए दोनों नाबालिग लड़कों को तैयार किया था.

Shikhar Sammelan: असदुद्दीन ओवैसी का आरोप- ‘सरकार अफगानिस्तान में अपने हथियार छोड़ आई, मोदी की विदेश नीति फेल’

abp न्यूज़ के सवाल पर मायावती की सफाई, कहा- अभी मैं स्वस्थ्य हूं लेकिन उत्तराधिकारी दलित वर्ग से ही होगा

Source link ABP Hindi