जेपी नड्डा के साथ ब्राह्मण नेताओं ने की बैठक, समुदाय तक पहुंच बनाने की रणनीति पर हुई चर्चा

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के ब्राह्मण नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा (BJP President JP Nadda) से सोमवार को मुलाकात की. इससे एक दिन पहले इन नेताओं ने राज्य में इस समुदाय के मतों को अपने पक्ष में करने के लिए विचार-विमर्श किया था. उत्तर प्रदेश में अगले साल के शुरू में विधानसभा चुनाव होने हैं.

नड्डा के साथ हुई बैठक में इस समुदाय संबंधी विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई. इससे पहले, उत्तर प्रदेश से बीजेपी (BJP) के एक दर्जन से अधिक ब्राह्मण नेताओं (Brahmin Leaders) ने समुदाय के सदस्यों तक पहुंचने की रणनीति बनाने के लिए राज्य में पार्टी के चुनाव प्रभारी एवं केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Union Minister Dharmendra Pradhan) के आवास पर रविवार को एक बैठक की थी.

ब्राह्मण सदस्यों तक पहुंचने के लिए बनाई समिति

पार्टी ने समुदाय के ब्राह्मण सदस्यों तक पहुंचने के लिए एक समिति बनाई है, जिसके सदस्य राज्यसभा में बीजेपी (BJP) के मुख्य सचेतक शिव प्रताप शुक्ला, पार्टी नेता अभिजीत मिश्रा, पूर्व राष्ट्रीय सचिव एवं गुजरात से सांसद राम भाई मोकारिया और महेश शर्मा हैं.

समिति में अजय मिश्रा को भी किया गया है शामिल 

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा (Union Minister Ajay Mishra) समेत ब्राह्मण नेता राज्य के अपने-अपने क्षेत्रों में समुदाय के सदस्यों तक पहुंचेंगे. मिश्रा के बेटे को लखीमपुर खीरी हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) में गिरफ्तार किया गया है. गौरतलब है कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश (UP BJP) में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए 403 सीटों पर ब्राह्मणों तक पहुंचने के लिए 16 सदस्यीय समिति बनाई है. इस समिति में अजय मिश्रा टेनी को भी शामिल किया गया है.

मोदी-योगी सरकार के कार्यों को किया गया है शामिल
 
पार्टी ने उत्तर प्रदेश बीजेपी  के सभी बड़े ब्राह्मण नेताओं को अपने-अपने क्षेत्र के प्रतिष्ठित ब्राह्मणों से मुलाकात करने का जिम्मा सौंपा है. ये ब्राह्मण नेता समाज के सभी प्रतिष्ठित ब्राह्मणों से मुलाकाता में बीजेपी सरकारों के द्वारा ब्राह्मण वर्ग के लिए किए जा रहे कामों को बताएंगे. इनमें बीजेपी की मोदी-योगी सरकार (Modi-Yogi Government) के कार्यों को शामिल किया गया है.

Source link ABP Hindi