झारखंड: नए साल के दिन कोरोना के एक हजार से अधिक मामले आने से बढ़ी चिंता, जानें सरकार ने क्या?

Jharkhand News: झारखंड में शनिवार को नये वर्ष की पहली तारीख को कोविड-19 के 1007 मामले सामने आये. आधिकारिक प्रवक्ता ने आज देर रात बताया कि राज्य में आज पहली तारीख को कुल रिकार्ड 1007 कोविड संक्रमित मिले जिनमें अकेले राज्य की राजधानी रांची के ही 495 मरीज हैं. इससे पूर्व 31 दिसंबर को राज्य में रांची के 327 मामलों को लेकर कुल 753 कोरोना संक्रमित लोग मिले थे.

30 दिसंबर को आए थे 482 मामले
इससे पूर्व राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में 30 दिसंबर को उस समय उफान आ गया जब राज्य में एकाएक 482 लोग संक्रमित पाये गये जिनमें अकेले रांची के 246 मरीज शामिल हैं. झारखंड सरकार द्वारा आज रात्रि जारी कोविड संक्रमण के आंकड़ों में बताया गया है कि राज्य में कोविड संक्रमण की तीसरी लहर ने एकाएक जोर पकड़ लिया है और सिर्फ पिछले 24 घंटों में ही राज्य में कुल 1007 नये लोग कोरोना संक्रमित पाये गये जिनमें 495 लोग रांची से हैं.

कहां कितने मामले
इनके अलावा पूर्वी सिंहभूम में 123, धनबाद में 113, पश्चिमी सिंहभूम में 53, कोडरमा में 47 और बोकारो तथा हजारीबाग में 43-43 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं. इससे पूर्व आज दिन में जारी आंकड़ों के अनुसार शुक्रवार को राज्य में कोरोना संक्रमित लोगों में से 121 स्वस्थ होकर अपने घरों को चले गये.

कड़े फैसले लेने को कहा गया
राज्य सरकार की ओर से राज्य के स्वास्थ्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने सभी जिला उपायुक्तों को चिट्ठी लिखकर अपने यहां बढ़ते कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखकर कड़े फैसले लेने को कहा गया है. सचिव ने सभी उपायुक्तों को 15 जनवरी तक सभी टीका लगाने के योग्य लोगों को कोविड टीके की पहली और दूसरी खुराक दे देने के निर्देश भी दिये हैं.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा की गयी घोषणा के अनुसार राज्य में 15 से 18 वर्ष के बालकों का भी टीकाकरण के लिए पंजीकरण आज प्रारंभ हो गया और उन्हें तीन जनवरी से टीका लगाने की तैयारी कर ली गयी है.

ये भी पढ़ें:

Vaccine for children: सोमवार से होगी 15-18 साल के किशोरों को टीका लगने की शुरुआत, अब तक हुए 3.27 लाख रजिस्ट्रेशन

Omicron Alert Delhi: कोरोना नियमों की अनदेखी करना पड़ा भारी, दिल्ली की दो मार्केट को किया गया बंद

Source link ABP Hindi