तिरुमाला में लड्डूओं के लिए बायोडिग्रेडेबल बैग काउंटर की शुरुआत

तिरुपति बालाजी में लड्डूओं के लिए बायोडिग्रेडेबल बैग काउंटर की शुरुआत हो चुकी है. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) के चेयरमैन जी सतीश रेड्डी ने तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम के कार्यकारी अधिकारी डॉक्टर केएस जवाहर रेड्डी के साथ रविवार को इस काउंटर का उद्घाटन किया. इन इको-फ़्रेंडली बायोडिग्रेडेबल बैग्स को DRDO ने ही तैयार किया है. 

DRDO के चेयरमैन जी सतीश रेड्डी ने बताया, “हैदराबाद स्थित हमारी लेबोरेटरी पर्यावरण के लिए नुकसानदायक प्लास्टिक के विकल्पों पर लगातार शोध करती आ रही है. सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल कम करने के उद्देश्य से ही हमने ये इको-फ़्रेंडली बायोडिग्रेडेबल बैग्स तैयार किए हैं. ये बैग्स स्टार्च और कॉर्न से मिलकर तैयार किए गए हैं और 90 दिनों के अंदर खुद से ही नष्ट हो जाते हैं. साथ ही इनकी खासियत ये है कि, अगर जानवर इन बैग्स को खा भी लेते हैं तो भी उनको इस से कोई नुकसान नहीं होगा.”

2019 में लगाया गया था सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन 

साल 2019 से पहले तक तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम सिंगल यूज प्लास्टिक का बड़ी संख्या में इस्तेमाल होता रहा है. 2014-2018 के बीच यहां लड्डुओं के लिए  श्रद्धालुओं को 9.63 करोड़ पॉलीथीन बांटी गई थी. 2019 में तत्कालीन चेयरमैन वायवी सुब्बा रेड्डी की अगुवाई में सिंगल यूज प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.

  

तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम ने अब DRDO के जरिये इन इको-फ़्रेंडली बायोडिग्रेडेबल बैग्स को तैयार करवाया है. तिरुपति में अब श्रद्धालु प्लास्टिक की बजाय इन इको-फ़्रेंडली बैग्स में यहां का प्रसिद्ध प्रसादम ले जा पाएंगे. इसके लिए तिरुमाला मंदिर के पास इन बैग्स का काउंटर का बनाया गया है.

यह भी पढ़ें 

India Monsoon Update: यूपी, बिहार, बंगाल समेत कुछ स्थानों पर आज भारी बारिश संभव, जानिए मौसम अपडेट

Afghanistan News: अफगानिस्तान से नागरिकों की हो रही वतन वापसी, भारत दो अफगान सांसदों समेत 392 लोगों को वापस लाया

Source link ABP Hindi