तीन साल बाद 3 साल की बच्ची की हत्या का हुआ खुलासा, आरोपियों ने किया था रेप 

Muradabad Case: मुरादाबाद (Moradabad) पुलिस ने तीन साल बाद 3 साल की मासूम बच्ची की हत्या (Murder) का खुलासा कर 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने मासूम बच्ची का अपहरण कर उसके साथ रेप (Rape) किया था और गला घोंटकर हत्या कर दी थी. हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने शव को जलाकर कूड़े में फेंक दिया था. बच्ची के जले हुए शव की शिनाख्त नहीं होने की वजह से पुलिस (Police) ने शव की डीएनए (DNA) रिपोर्ट कराई थी. रिपोट आने के बाद थाना सिविल लाइन पुलिस ने गुमशुदगी लिखी थी. डीआईजी मुरादाबाद रेंज शलभ माथुर ने इस हत्याकांड का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को प्रशस्ति पत्र के साथ 25 हजार रुपये का पुरस्कार देने का एलान किया है. 

पुलिस ने शव और परिजनों का डीएनए कराया
6 सितंबर 2018 को जन्माष्टमी के अगले दिन मुरादाबाद की थाना सिविल लाइन पुलिस को 3 साल की बच्ची का शव कूड़े के ढेर पर जली हुई अवस्था में मिला था. 5 सितंबर 2018 को जन्माष्टमी के दिन एक परिवार ने अपनी 3 साल की बच्ची की गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी. अगले दिन शव मिलने के बाद पुलिस ने शव की शिनाख्त करने के लिए परिजनों को बुलाया था. लेकिन, शव बहुत बुरी तरह से जला हुआ होने की वजह से शिनाख्त नहीं हो पाई थी. जिसके बाद पुलिस ने शव और परिजनों का डीएनए कराया. तीन साल बाद डीएनए रिपोर्ट आने पर बच्ची इसी परिवार की थी इसकी पुष्टि हुई. 

रेप के बाद हत्या
जन्माष्टमी के जुलूस से बच्ची का अपहरण कर रेप के बाद हत्या के मामले में पकड़े गए रविंद्र और मिंटू ने बताया कि 5 सितंबर 2018 को जन्माष्टमी के दिन जुलूस से 3 साल की बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने बहला फुसला कर अपने साथ ले गए थे. उसके बाद शराब के नशे में बच्ची के साथ रेप किया उसके बाद उसका गला घोंटकर हत्या कर दी थी. अपराध को छिपाने और शव की पहचान को छिपाने के लिए एक कूड़े के ढेर पर आग लगी हुई थी, उस कूड़े के ढेर पर शव को फेंककर फरार हो गए थे.

शव की शिनाख्त नहीं हो पाई थी
एसपी सिटी अमित कुमार आनंद के मुताबिक 3 साल की बच्ची का कूड़े के ढेर पर शव मिलने के बाद शव की शिनाख्त नहीं हो पाई थी. जिसके बाद पुलिस ने गुमशुदगी वाली बच्ची का फोटो लेकर उसकी छानबीन की तो एक पान की दुकान वाले ने बताया कि रविंद्र नाम के एक व्यक्ति ने फोटो वाली बच्ची को टॉफी दिलाई थी. जिसके बाद पुलिस ने रविंद्र को पकड़ लिया. जिसके बाद पूरा मामले की कड़ियां खुलती चली गईं.

ये भी पढ़ें: 

UP: काबुल से सकुशल लौटे चंदौली के सूरज चौहान, कहा- अब कभी नहीं जाऊंगा अफगानिस्तान

सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में बुरा है सड़कों का हाल, लोग बोले- कोई नहीं दे रहा है ध्यान

Source link ABP Hindi