तुलु न्यूज़ के पत्रकार ने अपनी मौत का किया खंडन, कहा- तालिबानी आतंकियों ने पीटा, सामान भी छीना

Afghanistan News: अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे को बाद से पत्रकारों को निशाना बनाया जा रहा है. यहां तुलु न्यूज़ के पत्रकार जियार याद को तालिबानी आतंकियों ने खूब पीटा और कैमरा-मोबाइल समेत उनका सामान भी छीन लिया. इससे पहले तुलु न्यूज़ के पत्रकार जियार याद की मौत की खबर आई थी, लेकिन खुद जियार याद ने ट्वीट करके अपनी मौत की खबरों का खंडन किया है. 

तालिबानी मुझे बंदूक की नोक पर कहीं ले गए और मारा- जियार याद

जियार याद ने ट्वीट करके कहा है, ‘’मुझे काबुल शहर में रिपोर्टिंग के दौरान तालिबानियों ने मारा पीटा, मेरा कैमरा, कई उपकरण और मेरा मोबाइल जब्त कर लिया गया. कुछ लोगों ने मेरी मौत की खबर फैला दी. ये सच है कि तालिबानी मुझे बंदूक की नोक पर कहीं ले गए और मारा. मेरे साथ अचानक ऐसा क्यों किया गया, तालिबानी नेताओँ के साथ ये मुद्दा उठाया गया है. हालांकि हमला करने वालों को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है. ये अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला है.’’

पत्रकारों को निशाना बना रहा तालिबान

बता दें कि इससे पहले 20 अगस्त को तालिबान के लड़ाकों ने DW के पत्रकार के परिवार के एक सदस्य की गोली मारकर हत्या कर दी थी. वहीं, एक सदस्य को घायल कर दिया था. हालांकि इस दौरान पत्रकार के अन्य रिश्तेदार भागने में कामयाब रहे और छिप गए. 

गौरतलब है कि डेढ़ महीने पहले तालिबान ने विश्व प्रसिद्ध भारतीय फोटोग्राफर और पुलित्जर पुरस्कार विजेता दानिश सिद्दीकी की कंधार में हत्या कर दी थी.

यह भी पढ़ें-

Covid-19: देश में एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले, पिछले 5 दिन के आंकड़े कर रहे तस्दीक

जानिए देश की सबसे बड़ी अदालत में पहली महिला जज कौन रहीं, अब तक क्या रही महिला जजों की स्थिति? अब 3 नई महिला जज बनीं

Source link ABP Hindi