तेजस्वी यादव का आरोप- भ्रष्ट अधिकारियों के साथ मिलकर अवैध कमाई कर रही सरकार, पिस रही जनता

पटना: बिहार में समय-समय पर अधिकारियों के मनमानी का मुद्दा उठता रहता है. विपक्ष के साथ ही सत्ता पक्ष के नेता भी कई बार अधिकारियों पर मनमानी का आरोप लगाते हुए दिखते हैं. नेताओं का कहना है कि राज्य में अफसरशाही चरम पर है. अधिकारी मनमानी करते हैं, जिससे विकास कार्य में बाधा उत्पन्न होती है. 

सीना तानकर भ्रष्टाचार करते हैं अधिकारी

इसी क्रम में शनिवार को बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने ट्वीट (Tweet) कर अफसरशाही के मुद्दे पर सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा, ” बिहार में अफसरशाही चरम पर है. अधिकारी सीना तान सरकारी काम में लापरवाही कर भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी को बढ़ावा देते हैं. जनप्रतिनिधियों को अपमानित करते हैं और नागरिकों को तो पांव के धूल बराबर नहीं समझते. पर सरकार और मंत्रियों को इससे क्या? उन्हें तो बंदरबांट में अपने हिस्से से मतलब है. “

 

तेजस्वी ने कहा, ” एनडीए सरकार में सत्तारूढ़ दल और बेखौफ अफसरों के लिए भ्रष्टाचार बाएं हाथ का खेल बन गया है. दोनों मिलकर अवैध कमाई करते हैं और नागरिक घूस, सरकारी बेपरवाही, परेशानी और भ्रष्टाचार के दुषचक्र में पिस कर रह जाते हैं. जनता भटक-भटक कर रह जाती है पर सुनवाई कार्रवाई का नामोनिशान नहीं होता.”

मंत्री ने की थी इस्तीफे की पेशकश

बता दें तेजस्वी यादव कई बार अफसरशाही का मुद्दा उठा चुके हैं. विधानसभा (Bihar Legislative Assembly) में भी सत्र के दौरान अधिकारियों के मनमाने रवैये और भ्रष्टाचार को लेकर वे सरकार को घेर चुके हैं. इधर, बीते दिनों बिहार सरकार में मंत्री मदन सहनी (Madan Sahni) ने भी अधिकारियों पर मनमानी करने का आरोप लगाकर मंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की थी. हालांकि, उनकी आवेदन को स्वीकार नहीं किया गया था.

यह भी पढ़ें –

पटना की ‘धोखेबाज दुल्हन’, 7 वचन को 3 महीने में ही तोड़ा, हरकत ऐसी कि अब पति भी कर रहा अफसोस

बिहारः ‘बौखलाहट’ में CM नीतीश कुमार के कार्यकर्ता, BJP के पोस्टर को जलाया, जानें पूरा मामला

Source link ABP Hindi