दिल्ली में मिला जम्मू के सिख नेता त्रिलोचन सिंह का शव, पोस्टमॉर्टम से साफ होगी मौत की वजह

नई दिल्ली: वेस्ट दिल्ली के बसई दारापुर में जम्मू के रहने वाले 69 साल के नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता त्रिलोचन सिंह वजीर का शव मिला है. शव बेहद खराब हालत में है. त्रिलोचन सिंह वजीर जम्मू के एक प्रमुख सिख नेता थे और वह नेशनल कॉन्फ्रेंस के एमएलसी भी रह चुके हैं. डीसीपी वेस्ट उर्विजा गोयल ने बताया है कि दो सितंबर को वह अपनी फैमिसी से मिलने कनाडा जाने वाले थे, लेकिन फ्लाइट नहीं ले पाए.

पोस्टमॉर्टम से साफ होगी मौत की वजह

उर्विजा गोयल ने कहा कि त्रिलोचन सिंह की मौत कैसे की हुई, यह अभी साफ नहीं है. पोस्टमार्टम में साफ हो पाएगा क्योंकि बॉडी हाईली डीकंपोज्ड है. हमें जम्मू पुलिस से जानकारी मिली थी. इनकी फैमिली को चिंता हो रही थी, क्योंकि यह कनाडा नहीं पहुंचे थे.

पुलिस को जिस फ्लैट में त्रिलोचन का शव मिला है, अब उसके मालिक हरप्रीत सिंह पर शक है. फिलहाल हरप्रीत सिंह फरार है और उसका फोन नंबर भी बंद है. पुलिस ने कहा कि हम हर एंगल से इस पूरे मामले की जांच कर रहे हैं. पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है.

बाथरूम के अंदर पड़ा हुआ मिला था शव

त्रिलोचन का शव घर के अंदर बेडरूम के साथ एक अटैच बाथरूम के अंदर पड़ा हुआ मिला था. पुलिस ने कहा, ‘’इनकी गुमशुदगी की हमें कोई सूचना नहीं मिली थी, हमें सिर्फ बताया गया था कि यहां पर कोई डेड बॉडी हो सकती है. हरप्रीत के साथ हरमीत का नाम भी आ रहा है. दोनों सस्पेक्ट हैं. हरमीत जम्मू का रहने वाला है, इससे ज्यादा अभी हम पता कर रहे हैं.’’

बता दें कि त्रिलोचन सिंह वजीर जम्मू-कश्मीर के एक प्रमुख ट्रांसपोर्टर थे. वह ऑल जम्मू एंड कश्मीर ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन अध्यक्ष भी थे. साथ ही त्रिलोचन सिंह वजीर कई धार्मिक और सामाजिक संगठनों से जुड़े हुए हैं.

यह भी पढ़ें-

Photos: पैरालम्पिक खिलाड़ियों से मिले पीएम मोदी, अपने आवास पर किया सम्मानित

क्या आप जानते हैं? तालिबान सरकार के 5 मंत्री पाकिस्तान के हक्कानिया मदरसे के रहे हैं छात्र, जहां सैन्य शिक्षा भी दी जाती है

Source link ABP Hindi