दुनियाभर में आज मनाया जा रहा क्रिसमस का त्योहार, ये है जीसस से जुड़ी 10 अनोखी कहानियां

Happy Christmas 2021: आज 25 दिसंबर का दिन है (Christmas Day) और पूरी दुनिया पूरे हर्ष और उल्लास से क्रिसमस का त्योहार (Christmas 2021) मना रही है. ईसाई समुदाय के मान्यताओं के अनुसार आज भगवान के पुत्र प्रभु यीशु (Jesus Christ) ने धरती पर जन्म लिया था. उन्होंने लोगों के पाप को खत्म करने और मानव जाती को सही मार्ग दिखाने के लिए ही सामान्य मनुष्य के रूप में जन्म लिया था. प्रभु यीशु के बारे में कई ऐसी बातें हैं जिनकी जानकारी बेहद कम लोगों को है. आज क्रिसमस के पावन मौके पर हम आपको जीसस के जीवन से जुड़ी 10 रोचक बातें बताने वाले हैं (Stories Related to Jesus Christ). तो चलिए जानते हैं उन रोचक कहानियों के बारे में-

  1. बाइबिल (Holy Bible) के अनुसार प्रभु यीशु को अपना नाम एक फरिश्ते से मिला था. एक फरिश्ता यीशु (Angle) को लेकर धरती पर मदर मैरी के पास आया. उस फरिश्ते को देकर मदर मैरी डर गई तब उस देवदूत ने कहा कि आप इस धरती पर एक बच्चे को जन्म देंगी जिसका नाम जीसस होगा. उसका राज्य इस धरती से कभी खत्म नहीं होगा.
  2. जीसस का सरनेम क्राइस्ट (Christ) नहीं है. पहले फिलिस्तीन के लोगों का सरनेम नहीं हुआ करता था. क्राइस्ट एक ग्रीक शब्द है जिसका अर्थ है मसीहा.
  3. ईसाई समुदाय 25 दिसंबर को बहुत धूमधाम से प्रभु यीशु का जन्मदिन मनाता है, लेकिन, आपको बता दें कि जीसस के जन्मदिन (Jesus Christ Birthday) को लेकर कई ईसाई विद्वानों में मतभेद है. कई लोगों का यह मानना है कि जीसस का जन्म ठंड नहीं पतझड़ के मौसम में हुआ था.
  4. मैथ्यू के अनुसार जीसस के कई भाई बहन थे. उनका नाम था जेम्स, जोसेफ, सायमन और जुडास.
  5. ईसाई मान्यता के अनुसार जीसस पहले बढ़ई का काम करते थे. उनके भाई जोसेफ भी एक बढ़ई थे और जीसस ने उनसे ही बढ़ई का काम सीखा था.
  6. कहा जाता है कि जीसस का नयन-नक्श साधारण था लेकिन, उनमें दैवीय तेज था.
  7. यीशु के की चमत्कारों के बारे में बाइबल में लिखा है. लेकिन, उनका पहला चमत्कार यह थी कि उन्होंने एक शादी समारोह में पानी को शराब में बदल दिया था.
  8. मैथ्यू के अनुसार प्रभु यीशु आरामाइक, हिब्रू और ग्रीक आदि की भाषा बोला करते थे.
  9. मैथ्यू के अनुसार जीसस मांस का सेवन करते थे. वह अक्सर मछली खाया करते थे.
  10. बाइबिल में इस बात का भी ज्रिक मिलता है कि प्रभु यीशु ने 40 दिनों का उपवास रखा था. कोई आम आदमी ऐसा करने के बारे में सोच भी नहीं सकता है. 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

Source link ABP Hindi