दुनिया में तेजी से फैल रहा है ओमिक्रोन वेरिएंट, जानिए किस देश में क्या है मामलों की स्थिति

Omicron Varinat: दुनियाभर में ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. अमेरिका, चीन, रूस, भारत समेत दुनिया के कई देशों में ओमिक्रोन संक्रमण से दहशत का माहौल है. कई देशों में ओमिक्रोन वेरिएंट नियंत्रण से बाहर हो गया है. दुनिया के कई देशों की सरकारें संक्रमण के प्रसार को रोकने की हर संभव कोशिश कर रही है. दिसंबर महीने में ताजा आंकड़ों के मुताबिक दुनियाभर में औसतन हर दिन लगभग 9 लाख मामलों का पता चला है. अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, बोलीविया, अमेरिका और यूरोप के कई देशों में संक्रमण के मामलों में तेजी आई है. 

अमेरिका में ओमिक्रोन के मरीज बढ़े

अमेरिका में ओमिक्रोन के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. वैक्सीनेशन शुरू होने के एक साल से अधिक समय के बाद अमेरिका में कोविड-19 के नए मामले औसतन 2,65,000 प्रति दिन से अधिक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए हैं. अमेरिका के जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय के मुताबिक साल 2021 की शुरुआत में मध्य जनवरी में कोविड-19 के दैनिक नए मामलों की संख्या 2,50,000 थी. अमेरिकी राष्ट्रपति के मेडिकल सलाहकार एंथनी फौसी (Anthony Fauci) का दावा है कि जनवरी के अंत तक ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) से संक्रमण के मामले चरम पर होने की संभावना है.

फ्रांस में भी तेजी से संक्रमण

फ्रांस में कोरोना का ओमिक्रोन प्रमुख वेरिएंट बन गया है और पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामलों में काफी तेजी देखी जा रही है. देश की स्‍वास्‍थ्‍य एजेंसी के मुताबिक, इस हफ्ते की शुरुआत में फ्रांस में किए गए 62.4 फीसदी टेस्‍ट में ओमिक्रोन वेरिएंट की पुष्टि हुई है. यहां पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 232,200 मामले दर्ज किए गए. देश में संक्रमण की शुरुआत होने के बाद से ये संख्या सबसे अधिक है.
 
रूस में ओमिक्रोन के केस बढ़े

कोरोना महामारी से यूरोप में रूस सबसे अधिक प्रभावित है. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की अपील और घरेलू स्पुतनिक वी (Sputnik V) वैक्सीन की पर्याप्त संख्या में उपलब्धता के बावजूद केवल 45 फीसदी नागरिकों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है. रूस में पिछले महीने दिसंबर के अंतिम हफ्ते में कोरोना संक्रमण के 21,073 मामले सामने आए जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 47 लाख 9 हजार 344 हो गई है. रूस की सांख्यिकी एजेंसी रोसस्टैट (Statistics Agency Rosstat) के मुताबिक, देश में नवंबर में 71,000 से अधिक लोगों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई.

इटली ने भी पिछले साल दिसंबर के हफ्ते में रिकॉर्ड 98,030 कोरोना मामलों की रिपोर्ट दर्ज की गई. नए मामलों में से करीब एक-तिहाई लोग ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) से संक्रमित पाए गए. कोरोना को लेकर नए नियमों के तहत जिन लोगों ने कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) नहीं लगवाई है उन्हें संग्रहालयों, प्रदर्शनियों, पार्क समेत कई सार्वजनिक जगहों पर जाने की इजाजत नहीं है.

दक्षिण अफ्रीका में महामारी की शुरुआत के बाद से 3.4 मिलियन से अधिक कोरोना के मामले सामने आए हैं जबकि करीब 90,000 मौतें दर्ज की गई हैं. 15 नवंबर से 20 दिसंबर के बीच देश में कोविड मामलों में 82 से 98 फीसदी तक बढ़ोत्तरी हुई थी. बताया जा रहा है कि दक्षिण अफ्रीका से ओमिक्रोन वेरिएंट का पीक अब निकल गया है. दक्षिण अफ्रीका में ही पहली बार ओमिक्रोन वेरिएंट के मिलने की जानकारी आई थी. यहां से ही ये दूसरे देशों में फैला था. संक्रमण के मामलों में गिरावट के बाद 31 दिसंबर 2021 को दक्षिण अफ्रीका में नाइट कर्फ्यू को हटा दिया गया है.

भारत में कोरोना वायरस के नए मामलों में तेजी से उछाल देखने को मिला है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से 31 दिसंबर को जारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के 16,764 नए मामले सामने आए हैं. वहीं ओमिक्रोन वेरिएंट से संक्रमण के मामले 1270 तक पहुंच गए हैं. WHO के मुताबिक अब तक 90 से अधिक देशों में ओमिक्रोन संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं. सभी देश टीकाकरण और कोरोना गाइडलाइन को लेकर सख्ती बरत रह रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

Ukraine के राष्ट्रपति Volodymyr Zelensky से बात करेंगे Joe Biden, रूस के साथ सीमा तनाव पर चर्चा की संभावना

Source link ABP Hindi