नए साल का जश्न मनाने गोवा पहुंच रहे हैं दिल्ली-मुंबई से लोग, जानिए क्या है वजह

Happy New Year 2022: देशभर में कोरोना और ओमिक्रोन (Omicron) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. कोविड के बढ़ते मामलों के चलते दिल्ली-मुंबई (Delhi-Mumbai) समेत तमाम बड़े शहरों में प्रतिबंध लगा दिए गए हैं. यहां प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) के साथ ही नए साल के जश्न पर पाबंदी लगा दी है. लेकिन गोवा में अभी फिलहाल नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया है और न ही नए साल के जश्न पर कोई पाबंदी लगी है. इसी वजह से नए साल का जश्न मनाने के लिए दिल्ली-मुंबई से लोग गोवा पहुंच रहे हैं.

दिल्ली से गोवा पहुंचे एक पर्यटक ने कहा, “क्योंकि दिल्ली में कर्फ्यू लगा दिया गया है, इसलिए मैं यहां नया साल का जश्न मनाने आया हूं.” दरअसल, गोवा सरकार ने राज्य में नए साल पर पार्टी और जश्न मनाने की पूरी छूट दी है. हालांकि गोवा सरकार ने 31 दिसंबर के लिए कोविड का शत-प्रतिशत टीकाकरण या कोविड निगेटिव सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य किया है.

गोवा CM का बयान
गोवा में कोविड के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) ने कहा है कि तटीय राज्य में पार्टियों और कार्यक्रमों की अनुमति तभी दी जाएगी, जब मेहमानों के पास या तो शत-प्रतिशत टीकाकरण या कोविड निगेटिव सर्टिफिकेट होगा. सावंत ने कहा, “पार्टियों और रेस्तरां के लिए 100 प्रतिशत टीकाकरण या कोविड निगेटिव प्रमाण पत्र रखना अनिवार्य कर दिया गया है. अन्यथा आपको एक कार्यक्रम की मेजबानी करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.”

मंगलवार को कोविड के मामले 100 से अधिक दर्ज किए गए हैं. हालांकि सावंत ने यह कहते हुए कर्फ्यू या प्रतिबंध लगाने से इनकार कर दिया कि उनकी सरकार पर्यटन व्यवसाय को बाधित नहीं करना चाहती है. क्रिसमस (Christmas) और नए साल के जश्न (New Year Celebration) के मद्देनजर तटीय राज्य में पर्यटकों की भीड़ बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें-
Punjab Election: बीजेपी के लिए क्यों अहम हैं मनजिंदर सिंह सिरसा, जिन्हें पार्टी ज्वाइन करने 4 हफ्ते बाद मिल गई ‘Z’ कैटेगरी की सुरक्षा

Kanpur IT Raid: पीयूष जैन ने जब्त खजाना कोर्ट से मांगा वापस, कहा- टैक्स-जुर्माने के 52 करोड़ काटो और बाकी दो

Source link ABP Hindi