नोएडा: ध्वनि प्रदुषण करने पर होगा 10 हजार का चालान, डेसिबल मीटर का इस्तेमाल करेगी ट्रैफिक पुलिस

Gautam Buddha Nagar News: अक्सर सड़कों पर जब ट्रैफिक लग जाता है या गाड़ियां इक्कठा हो जाती है तो गाड़ियों के हॉर्न की आवाज आपको परेशान जरूर करती होगी या अगर आपके पास से कोई बाइक निकलती हो जिसमे मॉडिफाइड साइलेंसर लगा हो तो उसके शोर से आपको दिक्कत जररूत होती होगी. बहरहाल गौतमबुद्ध नगर जिले में अब ऐसा करने वालों पर सख्ती बरती जाएगी, और चालान भी किया जाएगा. हालांकि ट्रैफिक पुलिस चालान तो अभी भी करती है लेकिन अब चालान से बचने वालो के लिए डेसिबल मीटर का इस्तेमाल किया जाएगा.

ध्वनि प्रदूषण फैलाने वालों का चालान डेसिबल मीटर से करेगी पुलिस

डेसिबल मीटर की जानकारी देते हुए डीसीपी ट्रैफिक गणेश साहा ने एबीपी न्यूज को बताया कि अब ट्रैफिक पुलिस जिले में ध्वनि प्रदूषण फैलाने वालों का चालान डेसिबल मीटर से करेगी. यानी अगर अब कोई तेज आवाज में हॉर्न बजाएगा या गाड़ी से शोर करेगा तो ट्रैफिक पुलिस से वो बच नहीं पाएगा. ट्रैफिक पुलिस डेसिबल मीटर पता लगा लेगी कि क्या वाकई में ध्वनि प्रदूषण हुआ या नहीं.

ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को दी गई है ट्रेनिंग

इस संबंध में ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को भी प्रशिक्षण दिया गया है. यह डेसिबल मीटर ट्रैफिक निरीक्षक और ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर के पास रहेगा, जिससे ध्वनि प्रदूषण की सूचना मिलते ही तुरंत एक्शन लिया जा सकेगा. बता दे की डीसीपी ट्रैफिक ने बताया की ध्वनि प्रदूषण करने पर 10 हजार रुपए का चालान होता है.

ये भी पढ़ें

UP Elections: सहनी की ‘नैया’ अब मांझी लगाएंगे पार! यूपी विधानसभा चुनाव में VIP-HAM के गठबंधन की है चर्चा 

UP Free Laptop Scheme 2021: आज से शुरू होगा फ्री लैपटॉप और स्मार्टफोन वितरण कार्यक्रम, सीएम योगी करेंगे योजना का आगाज़



Source link ABP Hindi