नोएडा प्राधिकरण में डेपुटेशन पर आए अधिकारी पर लगा शासन का नियम तोड़ने का आरोप, जानें- पूरा मामला

Noida News: नोएडा प्राधिकरण में दूसरे विभाग से डेपुटेशन पर आए राजेश कुमार पर शासन के बनाए गए नियमों की अवहेलना का आरोप लगा है. दरहलसल राजेश कुमार उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन (UPPCL)विभाग से डेपुटेशन पर नोएडा प्राधिकरण में विधुत यांत्रिक(E/M)में वरिष्ठ प्रबंधन के पद पर तीन वर्ष के लिए आये. लेकिन उत्तरप्रदेश शासन के नियम के मुताबिक अगर इस बीच किसी अधिकारी का पदोन्नति (प्रोमोशन) होता है तो उस अधिकारी को वापस उसी विभाग में जाना होता है. लेकिन आरोप है कि प्राधिकरण में बैठे अधिकारी प्रमोशन होने के बाद भी शासन के सभी नियमों को ताक पर रखकर कुर्सी पर जमे बैठे हैं.

यह कोई पहला मामला नहीं है जब शासन के नियमों को ताक पर रखकर प्राधिकरण के अधिकारी ऐसा करते हैं. शासन द्वारा साफ-साफ पत्र में लिखा हुआ है कि अगर डेपुटेशन पर नोएडा प्राधिकरण में अधिकारी आता है और उस कार्यकाल के दौरान उस अधिकारी का प्रमोशन हो जाता है, तो उसको वापस उसी विभाग में जाना होता है जिस विभाग से उसको भेजा गया है.

लगा ये आरोप

राजेश कुमार यूपीपीसीएल विभाग से डेपुटेशन पर तीन साल के कार्यकाल के लिए नोएडा प्राधिकरण में तैनात वरिष्ठ प्रबंधक के पद पर तैनात हुए हैं. लेकिन आरोप है कि प्राधिकरण में बैठे अधिकारी खुद प्रदेश शासन के नियमों को ताक पर रखकर अपने मनमाने तरीके से जमे हुए हैं.

ये भी पढ़ें-

UP News: जानिए- इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर से मिले सोने और करोड़ों रुपये को कहां कराया गया है जमा

UP Election 2022: हापुड़ में जेपी नड्डा ने लोगों को गिनाईं सरकार की उपलब्धियां, अखिलेश यादव पर जमकर बरसे

Source link ABP Hindi