पशुपति पारस ने अपने जान को बताया खतरा, गृह मंत्री को पत्र लिखकर की ‘जेड प्लस’ सुरक्षा की मांग

नई दिल्ली: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के नेता और केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस (Pashupati Kumar Paras) ने गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को पत्र लिखकर कहा है कि ‘‘राजनीतिक साजिश’’ की वजह से उनके जीवन को खतरा है, इसलिए उन्हें ‘जेड प्लस’ सुरक्षा (Z-Plus Security) उपलब्ध कराई जानी चाहिए.

जनता का समर्थन देख लगा है झटका

पारस ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उन्हें उनके मोबाइल फोन पर गालियां और धमकियां दी गई हैं. इस मामले में उन्होंने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा कि केंद्रीय मंत्री (Central Minister) बनने के बाद 23 अगस्त को बिहार स्थित हाजीपुर निर्वाचन क्षेत्र के उनके पहले दौरे के दौरान ‘‘जनता से मिले भारी समर्थन’’ की वजह से उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को झटका लगा है और राजनीतिक साजिश के तहत वे उनकी ‘‘हत्या की राजनीति’’ कर रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वियों द्वारा कथित तौर पर भाड़े पर लिए गए लोगों के एक समूह ने उनके काफिले को काले झंडे दिखाए और उनपर मोबिल ऑयल भी फेंका. गौरतलब है कि एलजेपी पर नियंत्रण को लेकर केंद्रीय मंत्री की अपने भतीजे और जमुई सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) के साथ राजनीतिक लड़ाई चल रही है. 

कॉल पर मिल रही धमकियां 

पारस ने कहा कि उनकी पार्टी के कुछ अन्य नेताओं को भी मोबाइल फोन पर गालियां और धमकियां मिली हैं. उन्होंने इस संबंध में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को भी पत्र लिखा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस और बिहार पुलिस दोनों को दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

यह भी पढ़ें –

बड़ी खबरः हाजीपुर में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत, कई युवकों को PMCH में कराया गया भर्ती

Caste Based Census: जीतन राम मांझी ने उठाए सवाल, ‘नाम में टाइटल लगाकर जाति बताने वालों को डर क्यों?’

Source link ABP Hindi