पीपल के पेड़ में होता है देवताओं का वास, मनचाहा वरदान पाने के लिए इस विधि करें पूजा

Peepal Remedies: हिंदू धर्म में पीपल के पेड़ (Peepal Tree) को पूजनीय माना गया है. मान्यता है कि पीपल के पेड़ (Peepal Tree) देवताओं का वास होता है. इतना ही नहीं, इस पर पितरों का भी वास रहता है. इसलिए विधिपूर्वक पीपल की पूजा (Peepal Puja) करने पर देवताओं के साथ पितरों का भी आशीर्वाद प्राप्त होता है. धार्मिक मान्यता है कि पीपल के पेड़ की विधि-विधान से पूजा आदि करने पर जीवन से जुड़े सभी कष्ट दूर हो जाते हैं. इतना ही नहीं, सुख-समृद्धि और सौभाग्य की भी प्राप्ति होती है. आइए जानते हैं पीपल की पूजा करते समय किन नियमों (Peepal Puja niyam) का पालन करना जरूरी है. 

करें भगवान शिव और हनुमान की उपासना 

भगवान शिव (Lord Shiva) और हनुमान जी (Hanuman Ji) की शीघ्र कृपा पाने के लिए पीपल के पेड़ के नीचे बैठ कर उनकी विशेष रूप से अराधना करने पर वे जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं. और भक्तों पर कृपा बरसाते हैं. 

सुख-संपत्ति के लिए करें ये उपाय 

मान्यता है कि शनिवार के दिन पीपल के पेड़ (Peepal Tree Puja On Saturday) में लक्ष्मी जी (Lakshmi Ji) का वास होता है. ऐसे में मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi) की कृपा पाने के लिए शनिवार के दिन पीपल के पेड़ (Saturday Peepal Tree) को जल अवश्य अर्पित करें. वहीं, शनिवार के दिन पीपल के नीचे सरसों के तेल का दीया जलाने शनि देव  (Shani Dev) प्रसन्न होते हैं और भक्तों के कष्ट दूर करते हैं. 

शनि की पूड़ा दूर करेंगे पीपल 

किसी जातक की कुंडली में शनि दोष (Shani Dosh) होने पर पीपल की पूजा अत्यंत लाभकारी होती है. यह किसी के ऊपर शनि ढैय्या (Shani Dhaiya), साढ़ेसाती (Sadesati) या फिर महादशा (Shani Mahadasha) चल रही है, तो पीपल के पेड़ (Peepal Puja) की पूजा अवश्य करें. वहीं, शनिवार के दिन सरसों के तेल का दीया भी अवश्य जलाएं. 

इन बातों का रखें खास ख्याल

पीपल की पूजा (Peepal Puja) करते समय कुछ बातों का ध्यान रखान बेहद जरूरी है. जैसे रविवार के दिन पीपल के पेड़ को जल नहीं देना चाहिए. पीपल के पेड़ को काटने से बचें. कहते हैं ऐसा करने से वंश वृद्धि रुक जाती है. शास्त्रों में बताया गया है कि सूर्योदय से पहले कभी भी पीपल के पेड़ की पूजा न करें. क्योंकि उस समय मां लक्ष्मी की बहन दरिद्रा का वास होता है. जिससे आपके घर में दरिद्रता आ सकती है. वहीं, पीपल के पेड़ को लेकर ये भी मान्यता है कि परिक्रमा करने जीवन से जुड़े सभी दोषों से मुक्ति मिलती है. 

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

 

Source link ABP Hindi