पैरालम्पिक गेम्स भाविनाबेन पटेल ने रचा इतिहास, मेडल जीतने से हैं दो कदम दूर

Tokyo 2020 Paralympic Games: टोक्यो पैरालम्पिक गेम्स में भारती की टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन ने इतिहास रच दिया है. भाविनाबेन पटेल पैरालम्पिक क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले भारत की पहली महिला खिलाड़ी हैं. भाविनाबेन ने टोक्यो खेलों में महिला सिंगल्स क्लास 4 वर्ग में ब्राजील की जॉयस डि ओलिवियरा को हराया है. भाविनाबेन भारत के लिए मेडल जीतने से सिर्फ दो कदम दूर हैं. 

भारत की 34 साल की पटेल ने अंतिम 16 मुकाबले में 12-10, 13 -11, 11-6 से जीत दर्ज की. अब उनका सामना सर्बिया की बोरिस्लावा पेरिच रांकोविच से होगा. अब अगर भाविनाबेन क्वार्टर फाइनल मैच जीतने में कामयाब हो जाती हैं तो वह सेमीफाइनल में पहुंच जाएंगी. 

भाविनाबेन ने माना है कि सेमीफाइनल में जीतने के लिए उन्हें अपना सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन करना होगा. उन्होंने कहा, ”मेरे कोच ने कहा था कि प्रतिद्वंद्वी के शरीर के पास खेलो और मैंने वही किया. अगले दौर में मुकाबला दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी से है और मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.”

शैकलटन पर दर्ज की जीत

इससे पहले भाविनाबेन पटेल ने ग्रेट ब्रिटेन की मेगान शैकलटन पर 3-1 से जीत दर्ज की थी. इस जीत के बाद भाविनाबेन पटेल को प्रीक्वार्टर फाइनल में जगह मिली थी. भाविनाबेन ने शैकलटन को 41 मिनट तक चले मैच में 11-7, 9-11, 17-15, 13-11 से हराया था. वर्ल्ड रैंकिंग में भाविनाबेन 12वें स्थान पर थीं, जबकि शैकलटन को 9वां स्थान हासिल है.

टेबल टेनिस में हालांकि भारत की दूसरी चुनौती समाप्त हो चुकी है. भारत की टेबल टेनिस खिलाड़ी सोनलबेन मनुभाई पटेल दोनों ग्रुप मैच हारकर बाहर हो गईं.

IND Vs ENG: क्या ईशांत शर्मा पूरी तरह से फिट हैं? टीम इंडिया ने तोड़ी सवालों पर चुप्पी

Source link ABP Hindi