प्रधानमंत्री मोदी ने इटली के पीएम मारियो द्राघी से की बात

Afghanistan Crisis: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को इटली के अपने समकक्ष मारियो द्राघी से बात की और अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद पैदा हुए सुरक्षा हालातों के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर समन्वित प्रयास की आवश्यकता पर बल दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्राघी से बात की और अफगानिस्तान के ताजा हालात पर समन्वित अंतर्राष्ट्रीय प्रयास की आवश्यकता पर चर्चा की. हमने जी-20 में सहयोग और जलवायु परिवर्तन जैसे अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर भी चर्चा की.’

बाद में प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने फोन पर हुई चर्चा के दौरान अफगानिस्तान की ताजा स्थिति और इससे विश्व और क्षेत्र पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर विमर्श किया. पीएमओ के मुताबिक दोनों नेताओं ने काबुल अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हुए घातक आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की और वहां फंसे लोगों को सुरक्षित निकालना सुनिश्चित करने पर जोर दिया.

सहयोग की आवश्यकता

पीएमओ ने कहा, ‘उन्होंने (दोनों नेताओं ने) अफगानिस्तान के घटनाक्रमों से पैदा हुई परिस्थिति से जो मानवीय और सुरक्षा का संकट पैदा हुआ है, उसके समाधान के लिए जी-20 सहित अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सहयोग की आवश्यकता पर जोर दिया.’ दोनों नेताओं ने जी-20 के एजेंडे से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर भी चर्चा की जिसमें जलवायु परिवर्तन भी शामिल था. इस सिलसिले में दोनों नेताओं ने सीओपी-26 जैसे आगामी बहुपक्षीय सम्मेलनों के बारे में विचारों का आदान प्रदान किया.

पीएमओ ने बताया कि पीएम मोदी ने इटली के जी-20 में चर्चाओं को सफलता के साथ आगे बढ़ाने के लिए उसके शानदार नेतृत्व की सराहना की. दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों, खासकर अफगानिस्तान की स्थिति पर संपर्क में बने रहने पर सहमति जताई. बता दें कि अफगानिस्तान के लगातार बिगड़ते हालातों के मद्देनजर प्रधानमंत्री विश्व के नेताओं से चर्चा कर रहे हैं. इससे पहले वह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से बात कर चुके हैं.

यह भी पढ़ें:
Kabul Airport Explosion: काबुल एयरपोर्ट पर विस्फोट से पहले और उसके पलभर बाद कैसे बदले हालात, ग्राउंड रिपोर्ट
Afghanistan Crisis: भारत से संबंधों को लेकर क्या बोला तालिबान? जानें

Source link ABP Hindi