बरसात के मौसम में मच्छरों से हैं परेशान, अपनाएं यह मॉर्डन सॉल्‍यूशन, जल्द मिलेगी निजात

Tips to get rid of Mosquitoes: मॉनसून के मौसम में सबसे ज्यादा परेशानी मच्छरों के कारण ही होती है. घर में ज्यादा मच्छरों के कारण कई बीमारियां जैसे डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया आदि  का खतरा भी बढ़ जाता है. मच्छरों के पनपने के लिए वह जगह बहुत अच्छी है जहां पानी और गंदगी की अधिकता है. ऐसे में बरसात के मौसम में घर और आसपास की साफ सफाई का ध्यान रखना बहुत जरूरी है. लेकिन, यह सब कुछ करने के बावजूद भी घर में बहुत से मच्छर आ गए हैं तो हम आपको कुछ ऐसे मार्डन तरीके बताने वाले हैं जिन्हें अपनाकर आप आसानी से मच्छरों को दूर भगा सकते हैं. तो चलिए जानते हैं उन मार्डन तरीकों के बारे में-

रोल-ऑन का करें यूज
शाम होने लगते हैं. बच्चे शाम तक घर के बाहर ही खेलते रहते हैं इस कारण उनका मच्छरों से बचाव करना बहुत जरूरी है. इसके लिए आप बाल रोग विशेषज्ञ प्रमाणित रोल-ऑन का इस्तेमाल कर सकते हैं. इससे आप बच्चों के कपड़ों पर कुछ बिंदु लगाकर छोड़ दें. यह बच्चों को मच्छरों से 8 घंटे तक सुरक्षा प्रदान करता है. आप चाहे तो स्कूल जाते वक्त भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.  

खुशबू वाले एयरोसोल स्प्रे का करें इस्तेमाल
अगर आर मच्छरों को मारने के लिए किसी भी तरह के स्प्रे का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं तो आजकल बाजारों में मच्छर मारने के रैकेट भी मिलते है. यह रैकेट बैटरी पर चलते हैं और झटके में ही मच्छरों को मार डालते हैं. आपको बता दें कि यह रैकेट पॉवरफुल बैटरी के साथ मिलते हैं. आपको इन्हें चार्ज करना पड़ता है और उसके बाद यह भी चलते हैं.  

पेपर बेस्ड रेपलेंट करें यूज
पेपर बेस्ड रेपलेंट का इस्तेमाल पिछले कुछ टाइम में बहुत बढ़ गया है. इससे मच्छर आसानी से भाग जाते हैं और यह बहुत किफायती भी होते हैं. यह लगाने के पांच मिनट के अंदर ही मच्छरों रो मार देते हैं. इसके इस्तेमाल के लिए आपको सिर्फ एक स्‍ट्रीप जलानी है और यह मच्छरों को आसानी से भगा देगा.

रेपलेंट क्रीम का करें इस्तेमाल
आजकल बाजार में मच्छरों को भगाने के लिए कई तरह के  रेपलेंट क्रीम मिलते हैं. यह आपको और आपके परिवार को डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया जैसी बीमारियों से बचाकर आपको सुरक्षित रखते हैं. ध्यान रखें कि इस तरह की रेपलेंट क्रीम लेते समय अच्छे ब्रांड की क्रीम लें. यह आपकी त्वचा के अनुकूल होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें-

Relationship Tips: ब्रेकअप की कगार पर पहुंच गया है रिश्ता, पार्टनर को दोबारा देना चाहते हैं मौका, रखें इन बातों का खास ख्याल

महामारी में मायोपिया के बढ़े मामले, जानें बच्चों के स्क्रीन समय पर लगाम क्यों है जरूरी

 

 

 

Source link ABP Hindi