बुर्किना फासो में हुए हमले में स्वयंसेवी नेता समेत 41 की मौत, शोक में डूबा देश

Burkina Faso News: इस्लामिक चरमपंथियों ने पिछले हफ्ते उत्तरी बुर्किना फासो में एक हमले में 41 लोगों की हत्या कर दी थी  जिसमें देश की सेना की मदद करने वाले एक स्वयंसेवी संगठन के प्रमुख नेता भी शामिल हैं. सरकार ने यह जानकारी दी. सरकार के प्रवक्ता अल्कासौम माईगा ने गुरुवार को लोरौम प्रांत में एक काफिले पर घात लगाकर किए गए भीषण हमले के बाद दो दिनों के शोक की घोषणा की है.

पीड़ितों में सोउमैला गनम भी शामिल थे, जिन्हें लाडजी योरो के नाम से भी जाना जाता है. बुर्किना फासो के राष्ट्रपति रोच मार्क क्रिस्चियन काबोरे ने कहा कि गनम अपने देश के लिए शहीद हो गए और ‘‘वह निश्चित तौर पर दुश्मन से लड़ने के लिए हमारी दृढ़ प्रतिबद्धता के प्रतीक होंगे’’

हिंसा की घटनाओं में तेजी से वृद्धि

आर्म्ड कॉन्फ्लिक्ट लोकेशन एंड इवेंट डेटा प्रोजेक्ट के एक वरिष्ठ शोधकर्ता हेनी नसाइबिया ने कहा, बुर्किना फासो के सबसे महत्वपूर्ण स्वयंसेवी संगठन के नेता की मौत ने दहशत की भावना पैदा कर दी है. कभी शांतिपूर्ण पश्चिम अफ्रीकी राष्ट्र रहे बुर्किना फासो में हिंसा की घटनाएं बढ़ रही है क्योंकि अलकायदा और इस्लामिक स्टेट से जुड़े हमलों में वृद्धि हुई है.

सरकार को पद छोड़ने के विरोध का करना पड़ा सामना

बता दें, नवंबर महीने में देश के सुरक्षा बलों पर हमले में 50 से ज्यादा लिंगम मारे गए थे वहीं, जून महीने में हुए हमले में सोहल क्षेत्र के कम से कम 60 लोगों का नरसंहार किया गया था. नवंबर के हमले के बाद हिंसा को रोकने में असमर्थता के बीच सरकार को पद छोड़ने के विरोध का सामना करना पड़ा था.

Source link ABP Hindi