भारत में रहने के लिए अहमदाबाद है सबसे सस्ता हाउसिंग मार्केट, जानिए कौन सा है सबसे महंगा शहर

Most Affordable Housing Market: कुल आय के अनुपात में देय मासिक किस्त के आधार पर अहमदाबाद देश के आठ प्रमुख शहरों में सबसे सस्ता या किफायती आवास बाजार है, जबकि मुंबई सबसे महंगा शहर है. नाइट फ्रैंक की तरफ से बुधवार को जारी किफायती आवास सूचकांक रिपोर्ट-2021 में इस बारे में जानकारी मिली है. भारतीय बाजार किफायती आवास के मामले में दशक की सबसे अच्छी स्थिति में हैं. घरों की कीमतों में आई गिरावट और होम लोन पर ब्याज दर कम होने से साल 2021 में घरों से जुड़ी किफायत बढ़ी है.

इंडेक्स से पता चलती है किस्त
यह सूचकांक दर्शाता है कि किसी शहर में रहने वाले परिवार को आय के अनुपात में कितनी रकम मासिक किस्त के तौर पर देनी पड़ती है. यह अनुपात 40 फीसदी होने का मतलब है कि उस शहर के एक परिवार को अपनी आय का 40 फीसदी हिस्सा मासिक किस्त के रूप में चुकाना होता है.

दिल्ली के किस्त अनुपात में हुआ सुधार
इस सूचकांक के निर्धारण में 50 फीसदी से अधिक आय एवं किस्त अनुपात होने पर उस शहर को रहने के लिहाज से किफायती नहीं माना जाता है. नाइट फ्रैंक की रिपोर्ट कहती है कि दिल्ली-एनसीआर इलाके में आवास किफायत अनुपात सबसे ज्यादा सुधरा है. साल 2020 में यह 38 फीसदी था, लेकिन इस साल यह 28 फीसदी पर आ गया.

अहमदाबाद है सबसे सस्ता
इस सूची में अहमदाबाद सबसे सस्ते आवास बाजार के तौर पर सामने आया है. वहां पर एक परिवार को अपनी मासिक आय का सिर्फ 20 फीसदी ही घर की किस्त या होम लोन के रूप में चुकाना होता है. पुणे 24 फीसदी के अनुपात के साथ सूची में दूसरे स्थान पर है.

मुंबई है सबसे महंगा
वहीं मुंबई में आय एवं मासिक किस्त का अनुपात 53 फीसदी होने से यह सबसे महंगा आवास बाजार बन जाता है. हैदराबाद में 29 फीसदी, बेंगलूरु में 26 फीसदी और चेन्नई एवं कोलकाता में 25-25 फीसदी का अनुपात है.

यह भी पढ़ें: 
7th Pay Commission: बड़ी खुशखबरी, केंद्रीय कर्मचारियों की नए साल में बढ़ जाएगी सैलरी! वेतन में हो सकता है 34,060 रुपये का इजाफा, जानिए कैसे?

Pension Scheme: बड़ी खुशखबरी, सरकार दे रही इन महिलाओं को पूरे 3600 रुपये, सीधे खाते में आएगा पैसा, जानिए कौन ले सकते है फायदा?

Source link ABP Hindi