भीड़ से पिटाई के बढ़ते मामले: शिवराज बोले- ऐसा कुचलेंगे कि लोग ऐसा करने से पहले 17 बार सोचेंगे

भोपाल: मध्य प्रदेश में भीड़ के तालिबानी सजा देने की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. सीएम शिवराज दावा कर रहे हैं कि ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा लेकिन लोगों पर ना तो कानून का और ना प्रशासन का डर दिख रहा है. मध्य प्रदेश के नीमच में चोरी के कथित आरोप में एक आदिवासी युवक के साथ बेरहमी से हुई मौत की घटना से सारा देश स्तब्ध है. इस घटना में 8 नामजद लोगों में से ज्यादातर लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

भीड़ की हिंसा की बढ़ती घटनाओं पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चेतावनी दी है. उन्होंने कहा है कि ऐसा कुचलेंगे कि लोग ऐसा करने से पहले 17 बार सोचेंगे. शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ”कोई अपराधी बख्शा नहीं जाएगा, लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. ऐसी कार्रवाई करेंगे कि ऐसी घटना की पुनरावृत्ति के पहले 17 बार सोचें. अपराधियों को कुचलकर रख दिया जाएगा. इसमें कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी.”

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा, ”राज्य में देशविरोधी नारे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे. अगर कोई व्यक्ति देश के विरोध में बात करेगा, तो उसे पूरी तरह कुचल दिया जाएगा.” सीएम शिवराज कड़ी कार्रवाई का भरोसा जरूर दिला रहे हैं लेकिन लोग 17 बार क्या इस तरह की घटनाओं को करने से पहले 1 बार भी नहीं सोच रहे हैं. 

लगातार हो रही इस तरह की घटनाओं को लेकर कांग्रेस ने शिवराज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने पूछा है , “ये कौन लोग है, जो निरंतर ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं ? हमारी गंगा-जमुनी भाईचारे की संस्कृति को कुछ लोग बिगाड़ने का काम कर रहे हैं? ऐसा लग रहा है कि किसी ख़ास एजेंडे के तहत यह सब किया जा रहा है? सरकार मूकदर्शक बन कर सब देख रही है ?”
 
कांग्रेस के इस सवाल पर शिवराज के केबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने पलटवार किया है. विश्वास सारंग ने कहा, ”जिस तरीक़े से ये विवादित विडीओ आए है उनसे शक हो रहा है कि ये कांग्रेस का किया धरा सरकार को बदनाम करने की साज़िश है.. कांग्रेस का डर्टी ट्रिक विभाग है.”

ये भी पढ़ें-
Janmastami 2021 : इस जन्माष्टमी कान्हा की इन दो रूपों वाली मूर्ति या चित्र से पूजा रहेगी बेहद शुभ

Janmastami : जन्माष्टमी पर गो स्नान और पूजन से बरसेगी श्रीकृष्ण की कृपा

Source link ABP Hindi