महंगाई पर राहुल गांधी का हमला, कहा- बीजेपी के कुशासन को जनता ही करेगी खत्म

नई दिल्ली: देश में पेट्रोल-डीजल-गैस की कीमत आसमान छू रही है, जिसका सीधा असर आम जनता की जेब पर पड़ रहा है. वहीं कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र पर निशाना साधा है.

राहुल गांधी ने एक ट्वीट में लिखा, “पुरानी लोककथाओं में ऐसे लालची कुशासन की कहानी होती थी जो अंधाधुंध टैक्स वसूली करता था. पहले जनता दुखी हो जाती लेकिन अंत में जनता ही उस कुशासन को खत्म करती थी. असलियत में भी ऐसा ही होगा.”

राहुल गांधी ने कहा, “23 लाख करोड़ रुपये केंद्र सरकार ने GDP से कमाया है. GDP का मतलब- गैस, पेट्रोल, डीजल. मेरा सवाल है कि ये 23 लाख रुपये गए कहां. जनता को ये पूछना चाहिए कि आपकी जेब से जो पैसा निकाला जा रहा है, ये कहां जा रहा है.”

इससे पहले पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने कहा था कि केंद्र में एनडीए को 100 कारणों से चले जाना चाहिए, बल्कि सिर्फ महंगाई के लिए केंद्र सरकार को बेदखल कर दिया जाना चाहिए. चिदंबरम ने यह भी कहा कि एक बच्चा भी तेल की कीमतों में बढ़ोतरी और आवश्यक वस्तुओं और रोजमर्रा की वस्तुओं की कीमतों में तेज वृद्धि के बीच संबंध को समझाने में सक्षम होगा.

सितंबर में खुदरा महंगाई दर घटकर 4.35 प्रतिशत पर पहुंची
हालांकि इस महीने खुदरा महंगाई दर घटकर 4.35 प्रतिशत पर आ गई है, जो कि पिछले महीने अगस्त में 5.3 प्रतिशत थी. सितंबर 2021 में महंगाई दर में करीब एक प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गई है, जो कि आम लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है. नेशनल स्टैटिकल ऑफिस (एनएसओ) की ओर से मंगलवार को सितंबर माह के लिए खुदरा महंगाई दर के आंकड़े जारी किए. विशेषज्ञों का कहना है कि खुदरा महंगाई दर में कमी की सबसे बड़ी वजह खाद्य पदार्थो के दामों में कमी आना है.

ये भी पढ़ें-
Nawab Malik Attacks NCB: नवाब मलिक बोले- दामाद को ड्रग्स के झूठे केस में फंसाया, समीर की जमानत के खिलाफ HC गई NCB

Yogi Adityanath और Arvind Kejriwal में किसकी सैलरी है ज्यादा? कौन है सबसे महंगा CM? जानिए सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सैलरी

Source link ABP Hindi