महाराष्ट्र के अमरावती में नाव पलटने की घटना, एक ही परिवार के 11 लोग डूबे, तीन शव बरामद

Boat Capsizing in Amaravati: आज महाराष्ट्र के अमरावती से एक दुखद खबर सामने आई. अमरावती जिले के श्री क्षेत्र झुंज में एक ही परिवार के 11 सदस्यों के डूबने की घटना सामने आई है. सुबह सुबह जानकारी मिली कि नाव पलटने से वर्धा नदी में 11 लोग डूब गए. तीन लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं और अन्य की तलाश की जा रही है. इस घटना के बाद विदर्भ रीज़न में कोहराम मच गया है.

एक ही परिवार के ग्यारह लोग दशक्रिया अनुष्ठान के लिए आए थे. दुर्घटना कल दशक्रिया की रस्म पूरी करने के बाद आज सैर के लिए जाते समय हुई. नाव पलटने से तीन लोग डूबे हुए पाए गए, जबकि आठ अन्य लापता लोगो की तलाश की जा रही है. अमरावती जिले के बेनोदा शहीद थाना अंतर्गत श्री क्षेत्र झुंज में वर्धा नदी में यह घटना सुबह करीब 10 बजे हुई और अब तक चार शव बरामद किए जा चुके हैं.

एक ही परिवार के ग्यारह सदस्य दशक्रिया अनुष्ठान के लिए गाडेगांव के मातरे परिवार में आए थे. दशक्रिया कार्यक्रम पूरा करने के बाद मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे वह वरुद में टहलने गए. उस समय लोग नाव से वर्धा नदी के उस पार भगवान शिव को प्रणाम करने जा रहे थे. अचानक नाव पलट गई और सभी ग्यारह डूब गए. इसमें बहन, भाई, दामाद शामिल हैं. एक महिला और एक छोटी बच्ची समेत तीन लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं.

अब तक तीन शव मिले हैं

  1. नारायण मातरे, आयु 45 वर्ष, निवासी. गडेगांव
  2. वंशिका शिवंकर, उम्र 2 वर्ष, निवासी. तिवासघाटी
  3. किरण खंडारे, उम्र 28 वर्ष, निवासी. मक्खन

8 लोगों की तलाश जारी

  1. अश्विनी खंडारे, रा. तारासवगा
  2. वृषाली वाघमारे, रा. तारासवांगा
  3. अतुल वाघमारे, रा. तारा सवांगा
  4. निशा मातरे, रा. गडेगांव
  5. अदिति खंडारे, रा. तारा सवांगा
  6. मोहिनी खंडारे, रा. तारा सवांगा
  7. पीयूष मातरे, रा. गडेगांव
  8. पूनम शिवंकर, रा. तिवासघाटी

गोताखोरों और स्थानीय लोगों की मदद से लापता हुए लोगों की तलाश जारी है. लापता हुए लोगों के बचने की संभावना कम बताई जा रही है.

महाराष्ट्र में थम रहा है कोरोना संक्रमण का केस, 9 फरवरी के बाद एक दिन में सबसे कम मामले आए सामने

खुशखबरी! पन्ना जिला में मजदूरों को मिला 8.22 कैरेट का हीरा, 40 लाख रुपए तक कीमत होने का अंदाजा

Source link ABP Hindi