यूपीएससी की तैयारी के दौरान तनाव के कारण कई बार हुईं बीमार, फिर इस तरह प्रतिभा वर्मा हुईं सफल

Success Story Of IAS Topper Pratibha Verma: लाखों की नौकरी छोड़ने के बाद जब कोई शख्स यूपीएससी में लगातार दो बार फेल होता है तो उसके लिए निराश होना लाजिमी है. लेकिन कुछ लोग इसको लेकर बहुत ज्यादा तनाव लेते हैं और वह स्वास्थ्य के लिए खतरनाक साबित होता है. आज आपको आईएएस अफसर प्रतिभा वर्मा की कहानी बताएंगे, जो यूपीएससी की तैयारी के दौरान अत्यधिक तनाव के कारण कई बार बीमार हुईं. हालांकि फिर उन्होंने अपनी मेंटल हेल्थ पर ध्यान दिया और तीसरे प्रयास में सफलता हासिल कर ली.

यूपीएससी के लिए छोड़ी लाखों की नौकरी
प्रतिभा वर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर की रहने वाली हैं. वह पढ़ने में हमेशा से होशियार रहीं और इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने आईआईटी का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लिया. इसके बाद उन्हें आईआईटी दिल्ली में दाखिला मिल गया. यहां से बीटेक की डिग्री हासिल करने के बाद उन्हें एक अच्छे पैकेज वाली नौकरी मिल गई. हालांकि उनका यहां मन नहीं लगा और उन्होंने सिविल सेवा की तैयारी करने का फैसला किया. 

मेंटल हेल्थ का ध्यान रखना जरूरी
प्रतिभा वर्मा को यूपीएससी में लगातार दो बार असफलता मिली, जिसकी वजह से वह तनाव लेती रहीं और बीमार रहीं. हालांकि इसके बाद उन्होंने बेहतर रणनीति और कड़ी मेहनत के साथ अपनी मेंटल हेल्थ का बखूबी ध्यान रखा. इसका परिणाम यह हुआ कि तीसरे प्रयास में उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 3 हासिल कर आईएएस बनने का सपना पूरा कर लिया. 

यहां देखें प्रतिभा वर्मा का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य कैंडिडेट्स को प्रतिभा की सलाह
प्रतिभा का मानना है कि यूपीएससी की तैयारी के दौरान आपको पॉजिटिव रहना होगा और तनाव से दूर रहना होगा. उनके मुताबिक जब तक आप मेंटली और फिजिकली फिट नहीं होंगे तब तक यहां सफलता प्राप्त करना काफी मुश्किल है. प्रतिभा के मुताबिक बेहतर रणनीति और कड़ी मेहनत के साथ-साथ अपनी हेल्थ का ध्यान रखें. जब आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा तो आपका पढ़ाई में मन लगेगा और आपको सफलता मिल जाएगी.  

यह भी पढ़ेंः NTA UGC NET 2021: एनटीए ने नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट के लिए दोबारा मांगे आवेदन, यहां जानें डिटेल

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Source link ABP Hindi