यूपीएससी में असफल होने के बाद खुद को कैसे रखें पॉजिटिव? आईएएस अफसर अनीषा तोमर से जानें  

Success Story Of IAS Topper Anisha Tomar: हर साल देश के लाखों युवा सिविल सेवा (Civil Services) की तैयारी करते हैं. तमाम लोगों को यूपीएससी (UPSC) में सफलता के लिए लंबे समय तक मेहनत करनी पड़ती है. तैयारी के दौरान खुद को पॉजिटिव रखना सबसे बड़ी चुनौती होती है. आज आपको आईएएस अफसर अनीषा तोमर (Anisha Tomar) की कहानी बताएंगे, जिन्होंने लगातार दो बार फेल होने के बावजूद खुद को सकारात्मक रखा और तीसरे प्रयास में सफलता प्राप्त करके अपना सपना पूरा कर लिया. आज उनसे सफलता के टिप्स जान लेते हैं. 

ऐसे आया यूपीएससी का खयाल 
अनीषा तोमर बचपन से ही पढ़ाई में होशियार रहीं और इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने पंजाब यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की. इंजीनियरिंग के दौरान ही अनीषा ने यूपीएससी में जाने का मन बनाया. डिग्री कंप्लीट होने के बाद उन्होंने तैयारी शुरू कर दी. सबसे पहले उन्होंने सिलेबस के अनुसार स्टडी मैटेरियल तैयार किया और फिर से शेड्यूल बनाकर पढ़ाई में जुट गईं. हालांकि उनका सफर काफी संघर्षपूर्ण रहा और इस दौरान उन्होंने धैर्य के साथ लगातार मेहनत की.

असफलताओं के बीच खुद को रखा पॉजिटिव 
पहले प्रयास में अनीषा यूपीएससी के प्री एग्जाम में फेल हो गईं. इसके बाद उन्होंने दूसरा प्रयास किया जिसमें वह मेन्स तक पहुंचीं. इससे उनका सेल्फ कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया और उन्हें लगने लगा कि उनकी रणनीति सफल हो रही है. उन्होंने खुद को पॉजिटिव रखा और धैर्य के साथ लगातार अपनी रणनीति के मुताबिक मेहनत करती रहीं. आखिरकार तीसरे प्रयास में उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 94 प्राप्त कर ली. 

यहां देखें अनीषा तोमर का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू 

अन्य कैंडिडेट्स को अनीषा तोमर की सलाह
अनीषा का मानना है कि अगर आप यूपीएससी में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको एक बेहतर रणनीति के साथ धैर्य रखकर लगातार लंबे समय तक मेहनत करनी होगी. उनका मानना है कि आपको सीढ़ी दर सीढ़ी आगे बढ़ना होगा और इसी तरह आप अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं. अनीषा के मुताबिक आप हर बार असफलता से सीख लें और गलतियों को सुधार कर बेहतर परफॉर्म करें.

यह भी पढ़ेंः IAS Success Story: लाखों की नौकरी छोड़कर यूपीएससी में आए, सालों संघर्ष करने के बाद Ravi Jain बने आईएएस अफसर

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Source link ABP Hindi