यूपी: 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में होने वाली महापंचायत को लेकर विभिन्न दलों की बैठक हुई आयोजित

UP Election: पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह पर पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी द्वारा की अशोभनीय टिप्पणी के खिलाफ और पांच सितंबर को मुजफ्फरनगर में होने वाली महापंचायत को सफल बनाने के लिए देशखाप चौधरी के आवास पर सर्व खाप की पंचायत हुई, जिसमें विभिन्न खापों के चौधरियों के अलावा रालोद, सपा पदाधिकारियों ने भी शिरकत की. पंचायत में पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी द्वारा कई दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह पर की टिप्पणी की निंदा की गई. पंचायत में ऐसे मंत्रियों को सबक सिखाने का निर्णय लिया गया.

पंचायत में वक्ताओं ने कहा कि दिल्ली बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में धरना चलते हुए नौ महीने हो चुके हैं, लेकिन सरकार पर कोई असर नहीं है. अब समय आ गया है जब सरकार को करारा सबक सिखाया जाएगा. पंचायत में निर्णय लिया कि पांच सितंबर को मुजफ्फरनगर में होने वाली पंचायत को सफल बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी जाएगी. हर गांव से ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार होकर किसान इस पंचायत में हिस्सा लेने के लिए जाएंगे. पंचायत में मौजूद सभी खापों के चौधरियों, ग्राम प्रधानों और रालोद नेताओं को भी इस पंचायत में अधिक से अधिक संख्या में लोगों को ले जाने की जिम्मेदारी सौंपी.

यशपाल चौधरी ने दी ये जानकारी 

यशपाल चौधरी ने कहा, ‘आज से 5-7 दिन पहले एक मंत्री जी आये थे. उन्होंने चरण सिंह जी को अपशब्द बोले. एक वो मुद्दा है. आगे कोई ऐसी बयानबाजी न करे, जिससे देश में कोई आपत्ति बने, झगड़े की संभावना हो सकती है. दूसरा मुद्दा धरने का है. 9 महीने से धरना चला हुआ है. सरकार किसानों की कुछ सुन नहीं रही. ऐसे में हम उसमें जोर शोर से बढ़ोतरी करेंगे. तीसरा मुद्दा 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में किसान संयुक्त मोर्चे की पंचायत में जाने का है. इसी मुद्दे पर पंचायत है. सभी आए हुए हैं. 5 तारीख की पूरी तैयारी है. दल बल के साथ पहुंचेंगे सभी किसान भाई.’

ये भी पढ़ें :-

अफगानिस्तान पर पीएम मोदी ने सवर्दलीय बैठक बुलाए जाने का दिया निर्देश, विपक्ष को दी जाएगी जानकारी

इंदौर: चूड़ी बेचने वाले मुस्लिम युवक के साथ मारपीट मामले में 2 लोग गिरफ्तार, गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज

Source link ABP Hindi