राशन कार्ड धारकों को रास नहीं आ रहा है जिला पूर्ति विभाग का सत्यापन अभियान, जानें वजह

Pauri Antyodaya Anna Yojana: उत्तराखंड (Uttarakhand) के पौड़ी (Pauri) जिले में खाघान्न योजना के तहत अंत्योदय सूची और खाद्य सुरक्षा योजना (Antyodaya Anna Yojana) से बाहर हुए राशन कार्ड (Ration card) धारकों को जिला पूर्ति विभाग का सत्यापन अभियान रास नहीं आ रहा है. यही वजह है कि सत्यापन अभियान (Verification Drive) से तिलमिलाए कार्ड धारक अब जिला पूर्ति विभाग (District Supply Department) के चक्कर काटते हुए जिला पूर्ति अधिकारी पर दबाव बनाने के लिए उनके कार्यालय का घेराव कर रहे हैं. 

242 राशन कार्ड हुए निरस्त
दरअसल, जिलाधिकारी के निर्देश पर मानकों के विपरति बने राशन कार्डों को खाघान्न योजना से बाहर करने के लिए दिए गए निर्देशों पर अब तक जिले में 242 राशन कार्ड धारक के कार्ड पूर्ति विभाग मानकों पर खरा ना उतरने पर निरस्त कर चुका है. यही वजह है कि सत्यापन अभियान से कई कार्ड धारकों की बेचैनी बढ़ने लगी है. सत्यापन अभियान को रोकते हुए निरस्त किए गए कार्ड को दोबारा से बहाल करवाने के लिए राशन कार्ड धारक हर संभव कोशिश करने में लगे हैं. 
 
मानकों को लेकर उठाए जा रहे हैं सवाल 
राशन कार्ड धारकों का कहना है कि राशन कार्ड के लिए जो मानक बनाए गए हैं वो सही नहीं है. अंत्योदय योजना की श्रेणी में शामिल होने के लिए प्रति माह परिवार की आय 4 हजार होना निर्धारित किया गया है. लेकिन, कोई मजदूर भी इससे अधिक आय अर्जित कर लेता होगा. जिस पर मानकों को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं. वहीं, जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि उच्च अधिकारियों से मिले दिशा निर्देशों के क्रम में ही ये सत्यापन अभियान चलाया जा रहा है. अभियान तेजी के साथ चल रहा है कई कार्ड धारकों के कार्ड भी मानकों पर खरा ना उतरने के कारण निरस्त किए गए हैं.

ये भी पढ़ें:  

UP Election: बाहुबली विधायक राजा भैया ने गठबंधन को लेकर दिया बड़ा बयान- बीजेपी या सपा किसके साथ जाएंगे खोला पत्ता

Kisan Panchayat: शामली में सर्व खाप के चौधरियों की पंचायत में नरेश टिकैत सहित विपक्ष के नेता रहे मौजूद

Source link ABP Hindi