वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने की बैंकों से राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करने की अपील

Nirmala On Public Sector Bank: केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों से राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करने का आग्रह किया है, जिससे ‘एक जिला, एक निर्यात’ एजेंडा को आगे बढ़ाया जा सके. निर्मला ने बुधवार को कहा कि प्रोत्साहन की रफ्तार को बनाये रखने के लिए बैंक देश के प्रत्येक जिले में ऋण उपलब्ध कराने का प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि सामूहिक रूप से सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने अच्छा काम किया है और महामारी के दौरान सेवायें देने के बावजूद वे त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई से बाहर निकले हैं.

बैंकों से निर्यातकों के निकायों से बातचीत का अनुरोध

वित्त मंत्री ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से निर्यातकों के निकायों से बातचीत का आग्रह किया गया है. इससे बैंक उनकी जरूरतों के बारे में समझ सकेंगे. उन्होंने कहा कि बैंकों से पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए लॉजिस्टिक्स और निर्यात पर केंद्रित राज्यवार योजना बनाने को कहा गया है. इसके साथ ही, वित्त मंत्री ने कहा कि पूर्वी भारत के राज्यों में जमा राशि बढ़ रही है, लेकिन ऋण जरूरतों को बढ़ाने की जरूरत है. बैंकों से फिनटेक क्षेत्र को मदद देने को कहा गया है.

आखिरी वेतन के 30% के बराबर पेंशन

वित्तीय सेवा विभाग के सचिव ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के मृतक कर्मचारी के परिवार को अब कर्मचारी के आखिरी वेतन के 30 प्रतिशत के बराबर पेंशन मिलेगी. पहले यह पेंशन राशि 9,284 रुपये थी. वित्तीय सेवा विभाग के सचिव ने कहा कि एनपीएस के तहत कर्मचारियों की पेशन के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का अंशदान 10 से बढ़ाकर 14 प्रतिशत किया गया.

ये भी पढ़ें:

Modi Cabinet Decisions: मोदी सरकार ने गन्ने का उचित और लाभकारी मूल्य बढ़ाया, जानें नई दर

पंजाब: कैप्टन के बागियों ने विधानमंडल की बैठक बुलाने की मांग रखी, आलाकमान से मुलाकात में उठाएंगे यही मुद्दा

Source link ABP Hindi