सर्दियों में मूली, खीरा, टमाटर के जूस से कंट्रोल करें ब्लड शुगर, लंबे समय तक सेहतमंद रहेंगे

Control Blood Sugar With Juice: आजकल ज्यादातर लोग डायबिटीज (Diabetes) से परेशान हैं. आपके खान-पान का ब्लड शुगर (Blood sugar) पर बहुत असर पड़ता है. डाइट से शुगर लेवल ऊपर-नीचे होता रहता है, जिसको कंट्रोल करना बड़ी चुनौती हो जाता है. लोग डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए तरह-तरह की दवाओं का सेवन करते हैं, हालांकि आप खाने में ऐसी चीजों को शामिल कर सकते हैं जो डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करे. डायबिटीज के मरीजों को वेजिटेबल जूस (Vegetable Juice) जरूर पीना चाहिए. इससे ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है. 

खीरे का जूस- गर्मी हो या सर्दी लोग सभी सीजन में खारी खाते हैं. डायबिटीज के मरीज को खीरे का जूस जरूर पीना चाहिए. इससे ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है. खीरा में भरपूर फाइबर और पोटेशियम पाया जाता है, जो नेचुरल तरीके से शरीर में इंसुलिन की मात्रा बढ़ा देता है. इससे ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है. 

टमाटर का जूस- डायबिटीज के मरीज को टमाटर का जूस भी जरूर पीना चाहिए. टमाटर का जूस पीने में बहुत स्वादिष्ट लगता है. इससे ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल रहता है. टमाटर में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं, जो आपकी त्वचा को खूबसूरत बनाते हैं. टमाटर में विटामिन सी पाया जाता है, जो इम्यूनिटी को मजबूत बनाता है. इसमें पाया जाने वाला प्यूरीन ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है. 

मूली और उसके पत्तों का जूस- सर्दियों में मूली काफी आती हैं. डायबिटीज के मरीज को मूली का सेवन जरूर करना चाहिए. मूले और उसके पत्तों का जूस पीने से ब्लड शुगर लेवल रहता है. इसे बनाना काफी आसान है. मूली के पत्तों का जूस पीने से पाचन तंत्र भी दुरुस्त रहता है.

करेले का जूस- करेला का जूस पीने में काफी कड़वा होता है, लेकिन इसके फायदे बहुत ज्यादा होते हैं. रोजाना करेले का जूस पीने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है. करेला पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, पोटेशियम, राइबोफ्लेविन और थायमीन जैसे न्यूट्रिशन पाए जाते हैं. इससे डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद मिलती है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link ABP Hindi