साउथ अफ्रीका के स्टार गेंदबाज डेल स्टेन ने क्रिकेट से संन्यास का किया ऐलान

Dale Steyn Retirement: साउथ अफ्रीका के स्टार तेज गेंदबाज डेल स्टेन (Dale Steyn) ने मंगलवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया. उन्होंने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. डेल स्टेन उन गेंदबाजों में शुमार हैं, जिन्होंने साउथ अफ्रीका की टीम को कई अहम मैचों में जीत दिलाकर अनोखे रिकॉर्ड बनाए हैं. उन्होंने साउथ अफ्रीका की तरफ से 93 टेस्ट, 125 वनडे और 47 टी-20 मुकाबले खेले हैं. टेस्ट में उन्होंने 439 विकेट हासिल किए हैं. 

ट्वीट किया भावुक संदेश

डेल स्टेन ने साल 2019 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया और तब से वे सीमित ओवरों के मैच खेल रहे थे. उन्होंने अपने करियर का आखिरी टी-20 मैच फरवरी 2020 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. पिछले कुछ सालों से डेल स्टेन चोट से जूझ रहे थे. खासकर नवंबर 2016 में दक्षिण अफ्रीका के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान उन्हें कंधे में चोट लगी थी. तब से वह लगातार चोट का शिकार होते रहे. स्टेन ने अपने संन्यास की घोषणा करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया, उन्होंने कहा: “आज मैं आधिकारिक तौर पर उस खेल से संन्यास ले रहा हूं जो मुझे सबसे ज्यादा पसंद है. कड़वा लेकिन आभारी.”

स्टेन ने लिखा, “आज मैं औपचारिक रूप से उस खेल से संन्यास लेता हूं जिससे मैं सबसे अधिक प्यार करता हूं. सभी को धन्यवाद, परिवार से लेकर टीम के साथियों, पत्रकारों से लेकर प्रशंसकों तक, यह एक साथ शानदार सफर रहा.” स्टेन ने संन्यास लेने की घोषणा करने वाले अपने पत्र में अमेरिका के रॉक बैंड ‘काउंटिंग क्रोज’ के गाने का जिक्र करते हुए अपनी भावनाओं को उजागर किया. इस तेज गेंदबाज ने लिखा, ‘‘यह ट्रेनिंग, मैच, यात्रा, जीत, हार, उपलब्धियों, थकान, खुशी और भाईचारे के 20 साल रहे. बताने के लिए काफी यादगार पल हैं. कई लोगों को धन्यवाद देना है. इसलिए इसे मैं विशेषज्ञों पर छोड़ देता हूं, मेरा पसंदीदा बैंड, काउंटिंग क्रोज.’’

स्टेन के नाम कई आईसीसी अवॉर्ड

डेल स्टेन विश्व क्रिकेट के उन गेंदबाजों में शुमार हैं, जो लगातार 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक सकें. 38 वर्षीय स्टेन अपने 20 साल के लंबे करियर में सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजों में शुमार रहे. उन्हें तेज गति और बेहतरीन स्विंग के लिए जाना जाता है. उन्हें 2008 में आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर अवार्ड (टेस्ट) से सम्मानित किया गया था. इसके अलावा भी उनके नाम कई अवॉर्ड हैं. साल 2013 में उन्हें विजडन लीडिंग क्रिकेटर अवॉर्ड, साल 2011 और 2014 में उन्हें ICC ODI टीम ऑफ़ द ईयर का अवॉर्ड मिला था. इसके अलावा 201 में विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर का अवॉर्ड भी उनके नाम दर्ज है. 

यह भी पढ़ेंः IPL New Franchise: IPL 2022 में दो नई टीमों के लिए BCCI ने तय किया बेस प्राइस, बोर्ड को ऑक्शन से 5000 करोड़ जुटाने की उम्मीद

Source link ABP Hindi