साल 2021 के अंत तक भारत को S-400 मिसाइल सिस्टम देना शुरू कर देगी रूस की कंपनी अल्माज एंटे

मॉस्को में अंतर्राष्ट्रीय सैन्य-तकनीकी फोरम ‘आर्मी-2021’ में रूस का कलाश्निकोव ग्रुप अपने नए प्रोडक्ट्स को पेश करने को तैयार है. रूस इस मिसाइल को एडवांस एस -8 एल गाइडेड मिसाइल के प्रारंभिक अनुसंधान और विकास के पूरा होने के बाद पेश करने की तैयारी में है. कलाश्निकोव ग्रुप के पहले उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी एंड्री सेमेनोव ने इस बारे में कई जानकारी दी हैं. वायु और अंतरिक्ष रक्षा चिंता के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी अल्माज-एंटे, व्याचेस्लाव डिजिरकलन ने सोमवार को कहा कि रूस साल 2021 के अंत तक मिसाइल रक्षा प्रणाली (एसएएम) एस-400 वितरित करना शुरू कर देगा.

उन्होंने कहा है कि सेमी एक्टिव होमिंग हेड के साथ एस-8 एल से लैस मिसाइल का उपयोग कई वाहकों के जरिए भी किया जा सकता है, जिसमें सभी तरह के हेलीकॉप्टर, विमान और यूएवी भी शामिल हैं. अंतर्राष्ट्रीय सैन्य-तकनीकी फोरम ‘आर्मी-2021’ में भारत में निर्मित लड़ाकू विमानों का भी जलवा दिखेगा. अंतर्राष्ट्रीय सैन्य-तकनीकी फोरम में डीआरडीओ भी अपनी प्रदर्शनी लगाएगा. 

आर्मी-2021 में स्वदेशी निर्मित लड़ाकू विमान होगी पेश 

भारत अंतर्राष्ट्रीय सैन्य-तकनीकी फोरम आर्मी-2021 में स्वदेशी निर्मित लड़ाकू विमान को पेश करने की तैयारी में है, जिसमें एलसीए तेजस, एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, अर्जुन मेन बैटल टैंक (एमके1-ए) भी शामिल है. डीआरडीओ में सार्वजनिक इंटरफेस निदेशालय (डीपीआई) के निदेशक डॉ. एनके आर्य ने कहा, ”आर्मी 2021 में हम अपने निर्यात उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए हिस्सा ले रहे हैं. उनमें से कुछ एलसीए तेजस, एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम और 8x-गन भी शामिल हैं.” एस -8 एल गाइडेड मिसाइल के अलावा, कलाश्निकोव ग्रुप और उसकी सहयोगी कंपनी वर्तमान में अलग-अलग तरह के एयर लॉन्च गाइडेड मिसाइल को पेश करने की तैयारी में जुटी है. सबसे पहले मिसाइल विखर -1 को लागू करने के अवसरों की तलाश की जा रही है. 

ये भी पढ़ें :-

अफगानिस्तान पर पीएम मोदी ने सवर्दलीय बैठक बुलाए जाने का दिया निर्देश, विपक्ष को दी जाएगी जानकारी

इंदौर: चूड़ी बेचने वाले मुस्लिम युवक के साथ मारपीट मामले में 2 लोग गिरफ्तार, गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज

Source link ABP Hindi