बागपत सीट पर BJP से बबली देवी और सपा-रालोद संयुक्त प्रत्याशी के बीच है मुकाबला

पश्चिमी यूपी की बागपत सीट महिला अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है. इस पर बीजेपी से बबली देवी और सपा-रालोद की संयुक्त प्रत्याशी ममता किशोर के बीच मुकाबला है.
भाजपा उम्मीदवार बबली देवी की बात करें तो वह वार्ड नंबर 13 से जिला पंचायत सदस्य चुनी गई हैं. बबली देवी सपा छोड़कर बीजेपी में शामिल हुई हैं.

वहीं इस सीट पर समाजवादी पार्टी- रालोद ने संयुक्त रूप से ममता किशोर को प्रत्याशी बनाया है. ममता किशोर रालोद नेता जय किशोर की पत्नी हैं.ममता नामांकन के दिन सुबह के वक्त बीजेपी में शामिल हुई थी और चार घंटे बाद वह वापस रालोद में घर वापसी कर गईं. नाम वापसी के दिन भी ममता किशोर को लेकर विवाद हुआ था. दरअसल फर्जी दस्तखत से नाम वापसी पर विवाद हुआ था. गौरतलब है कि पिछली बार ये सीट सपा के पास थी.

चलिए समझते हैं बागपत सीट का समीकरण

कुल सदस्य- 20
जीत के लिए- 11
रालोद-8
भाजपा-4
सपा-4
बसपा-1
निर्दलीय- 3

दोनों प्रत्याशी बहुमत से दूर हैं लेकिन रालोद का समर्थन मिलने से सपा के लिए मुश्किल कम हो सकती है. आज शाम तक नतीजे आ जाएंगे और तस्वीर साफ हो जाएगी. 

उत्तर प्रदेश के 22 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित घोषित किये गये जिनमें इटावा जिले को छोड़कर 21 निर्वाचित अध्यक्ष सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के हैं. इटावा में समाजवादी पार्टी को जीत मिली है. राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने मंगलवार को बताया था कि प्रदेश के 22 जिलों- सहारनपुर, बहराइच, इटावा, चित्रकूट, आगरा, गौतम बुद्ध नगर, मेरठ, गाजियाबाद, बुलंदशहर, अमरोहा, मुरादाबाद, ललितपुर, झांसी, बांदा, श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, गोरखपुर, मऊ, वाराणसी, पीलीभीत और शाहजहांपुर में जिला पंचायत के अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन हुआ है.

यह भी पढ़ें-

UP Zila Panchayat Chunav: बलिया में पकड़े गए फर्जी वोटर, चंदौली में सपा के पूर्व सांसद ने सदस्यों के पैर छुए, जानें- अन्य जिलों का हाल

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*