सीएम योगी ने दी गोरखपुर को सौगात, 162 करोड़ की विकास योजनाओं का किया शिलान्यास और लोकार्पण

Yogi Adityanath in Gorakhpur: मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे हैं. योगी ने गोरखपुर में 162 करोड़ की योजनाओं का शिलान्‍यास और लोकार्पण कर गोरखपुरवासियों को विकास की योजनाओं का तोहफा दिया. इस दौरान उन्‍होंने पूर्व की सरकारों पर स्‍वास्‍थ्‍य और विकास की योजनाओं से जनता को दूर रखने का आरोप लगाया. उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में जीवन और जीविका दोनों को ही बचाना है. हम नए उत्तर प्रदेश के नए गोरखपुर की परिकल्‍पना को साकार कर रहे हैं.

योगी ने गोरखपुर सदर, कैम्पियरगंज और पिपराइच की 162 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्‍यास और लोकार्पण किया. इस दौरान उन्‍होंने लोगों को संबोधित भी किया. उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना महामारी से डेढ़ साल से लड़ रही है. पीएम मोदी जी के नेतृत्व में सभी ने इस महामारी से लड़ाई लड़ी है. जनप्रतिनिधि, डाक्टर, प्रशासनिक अधिकारी, कर्मचारी, स्वास्थ्यकर्मी और कोरोना योद्धाओं के प्रयास से सफलता प्राप्त की है.

“जीविका और जीवन दोनों को बचाना है”
योगी ने आगे कहा कि विकास की योजनाएं चलती रहे. जीविका और जीवन दोनों बचाना है. हमने विकास की योजनाओं को थमने नहीं दिया. उसी का परिणाम है कि आज 162 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण हो रहा है. योगी ने कहा, “याद कीजिए 40 साल पहले गोरखपुर के नाम से यहां के लोगों को गलत समझते थे. आज गोरखपुर का नाम लेते ही लोग सम्मान के साथ देखते हैं. ये छवि गोरखपुर की सामने आई है. 5 साल पहले गोरखपुर जो लोग आए होंगे, आज वे आएंगे तो उनका सिर चकरा जाएगा कि वो कहां आ गए हैं. इसे संजोएं रखना और इसे जन-जन तक पहुंचाने के लिए हमें साथ मिलकर काम करना होगा.”

“अर्थव्यवस्था में यूपी दूसरे नंबर पर”
उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के एकमात्र मेडिकल कॉलेज में इंसेफेलाइटिस से बच्चों की मौत होती थी. हम लोग आंदोलन करते थे. सड़के गड्ढे में तब्दील थी. गुंडई चरम पर थी. 2017 के पहले औए 2014 के पहले कोरोना महामारी आई होती तो क्या हाल होता? आज दो वैक्सीन लोगों को फ्री लग रही है. देश के 5 राज्य ऐसे थे जो अर्थव्यवस्था में ऊपर थे. 4 साल में उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर है. जो इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा किया है, 5 साल में नंबर एक पर होंगे.

योगी ने कहा की हमने 4 लाख नौकरियां दी हैं. पहले कोई भी उद्यमी उत्तर प्रदेश में आना नहीं चाहता था. उनकी फाइलें दबी रह जाती थी. आज निश्चित समय पर फाइल पास होकर उन्हें उद्यम लगाने और यहां के युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है. नई रेटिंग जारी होगी तो उत्तर प्रदेश नंबर एक पर होगा. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कोविड के मरीजों के लिए अस्पताल चल रहा है. अक्टूबर में एम्स का लोकार्पण पीएम मोदी जी के हाथों होगा. साथ ही चार नए मेडिकल कॉलेज भी खुल रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

UP Unlock: यूपी में आज से खुलेंगे सिनेमाघर, जिम और स्टेडियम, जानें क्या हैं गाइडलाइंस

पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, सतपाल महाराज और धन सिंह रावत समेत 11 विधायक बने मंत्री

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*