Bihar Unlock-4: नियमों के साथ खोले जाएंगे शिक्षण संस्थान, अब कई क्षेत्रों में दी गई राहत

पटनाः छह जुलाई से बिहार में अनलॉक-3 समाप्त हो रहा है. इसको देखते हुए सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा के बाद अब सभी सरकारी, गैर सरकारी कार्यालय को सामान्य रूप से खोलने का निर्णय लिया है. इसके अलावा अब टीका प्राप्त आगंतुक कार्यालय में प्रवेश पा सकेंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर सोमवार को इसकी जानकारी दी.

इसके साथ ही अब विश्वविद्यालय, सभी कॉलेज, तकनीकि शिक्षण संस्थान, सरकारी प्रशिक्षण संस्थान, ग्यारहवीं एवं बारहवीं तक के विद्यालय 50 फीसद छात्रों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे. शैक्षणिक संस्थानों के व्यस्क छात्र-छात्राओं, शिक्षकों एवं कर्मियों के लिए टीकाकरण की विशेष व्यवस्था होगी. वहीं, रेस्टोरेंट एवं खाने की दुकान का संचालन 50 फीसद बैठने की क्षमता के साथ हो सकेगा.

दरअसल, बिहार में लगातार कोरोना के नए मामलों में गिरावट आ रही है. इसको देखते हुए सोमवार को नीतीश कुमार ने फैसला लिया. यानी अब अनलॉक-4 में शिक्षण संस्थान समेत कई चीजों को खोले जाने की अनुमति दे दी गई है. ताजा आंकड़ों की मानें तो रविवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार बिहार में सिर्फ 109 नए मामले सामने आए हैं. इसको देखते हुए अब छूट दी गई है.

इन क्षेत्रों में दी गई राहत, देखें एक नजर में 

  • विश्वविद्यालय, सभी कॉलेज, तकनीकि शिक्षण संस्थान, सरकारी प्रशिक्षण संस्थान 50 फीसद उपस्थिति के साथ खोले जाएंगे.
  • स्कूलों में सिर्फ ग्यारवीं और बारवीं के छात्र जा सकेंगे, इसके लिए भी 50 फीसद उपस्थिति ही होगी.
  • रेस्टोरेंट और खाने की दुकान का संचालन 50 फीसद बैठने की क्षमता के साथ हो सकेगा.
  • शैक्षणिक संस्थानों के व्यस्क छात्र-छात्राओं, शिक्षकों एवं कर्मियों के लिए टीकाकरण की विशेष व्यवस्था.

बता दें कि धीरे-धीरे बिहार में कोरोना के नए संक्रमितों में कमी आ रही है जिसको देखते हुए मुख्यमंत्री लगातार क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के साथ बैठक कर समीक्षा कर रहे हैं. इसके बाद शर्तों के साथ धीरे-धीरे छूट दी जा रही है ताकि कोरोना संक्रमण की संख्या जो कम हो रही है वह बढ़ने ना लगे.

यह भी पढ़ें- 

बिहारः RJD के स्थापना दिवस पर JDU का तंज, कहा- राजनीति के लिए हो रहा लालू का इस्तेमाल

बिहारः जिस कैदी की जिंदा रहते कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव आई मरने के बाद हुआ पॉजिटिव, ANMMCH का मामला

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*